शुक्रवार, 30 सितंबर 2016

कोसी के बेटे को पत्रकारिता में बड़ी सफलता: रोहन सिंह ने अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में भारत की ओर से हासिल की जीत

कोसी के एक लाल ने पत्रकारिता के क्षेत्र में एक अन्तर्राष्ट्रीय प्रतिस्पर्धा में भारत की ओर से जीत हासिल की है.  इन्टरनेशनल सेन्टर फॉर जर्नलिस्ट्सद्वारा 2016 के 'ग्लोबल हेल्थ रिपोर्टिंग कन्टेस्ट' में दुनिया भर से 150 प्रविष्टियाँ शामिल हुई थी, जिनमें छह देशों -ब्रजील, चीन, रूस, भारत, कैमरून और जिम्बाब्वे के पत्रकार जीते. भारत की ओर से यह पुरस्कार इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के चर्चित युवा पत्रकार रोहन सिंह ने जीती. रोहन सिंह इन दिनों सीएनबीसी आवाज़ में दिल्ली स्थित वरीय संवाददाता हैं.
       रोहन सिंह ने अपने दो रिपोर्ट के माध्यम से भारत की बढ़ती आबादी के बीच स्वास्थ्य की समस्या पर फोकस डाला है. पहली रिपोर्ट में  रोहन सिंह ने दिल्ली के गरीब लोगों पर पावर प्लांट से उत्सर्जित डस्ट से होने वाले दुष्प्रभाव की समीक्षा की है, वहीं दूसरी रिपोर्ट भारत सरकार की महत्वाकांक्षी योजना 'स्वच्छ भारत अभियान का रियल्टी चेक' है कि कैसे यह योजना अबतक विफल रही है और स्वास्थ्य की समस्यायें बढ़ती जा रही हैं.
         इस पुरस्कार में नकद राशि के अतिरिक्त  अमेरिका का दस दिवसीय 'स्टडी टूर' शामिल है,
जहाँ दुनिया भर से आये स्वास्थ्य विशेषज्ञों और बड़े पत्रकारों से वाशिंगटन, न्यूयार्क और एटलांटा में वार्ता का अवसर मिलेगा. रोहन 24 सितम्बर को अमेरिका के लिए रवाना हो चुके हैं जहाँ वे सात अक्टूबर तक रहेंगे.
         मधेपुरा जिले के कुमारखंड प्रखंड के इसरायण कलां गाँव निवासी रामदेव सिंह के पुत्र रोहन ने उच्च शिक्षा बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय से पूरी करने के बाद भारतीय जन संचार संस्थान, नई दिल्ली से टीवी पत्रकारिता का व्यवसायिक प्रशिक्षण लिया. रोहन लगभग छह वर्षों तक डीडी न्यूज में भी रहे. अपने पहले एसाइनमेंट में ही  मुम्बई में हुए आतंकी हमले की लगातार 35 घंटे तक लाइव कवरेज से रोहन सुर्ख़ियों में आये थे. इन्होने देश के लगभग हर कोने में जाकर वहां के ज्वलंत मुद्दों को अपने माध्यम से स्पेश देने की कोशिश की है. रोहन ने डीडी न्यूज पर अपने दो मित्रों के साथ ताकि बहती रहे गंगा धारावाहिक तैयार किया था जो शीघ्र ही पुस्तक के रूप में आने वाली है.
            जाहिर है, मधेपुरा और कोसी के इस बेटे की पत्रकारिता के क्षेत्र में बढ़ता कदम न सिर्फ प्रशंसनीय है बल्कि इस क्षेत्र में आगे बढ़ने की ख्वाहिश रखने वालों को मुद्दे पर आधारित पत्रकारिता के लिए प्रेरित करता है.

'मेला में मनचले युवको पर होगी कड़ी नजर': दुर्गा पूजा व मुहर्रम को लेकर थाना में शान्ति समिति की बैठक

दुर्गा पूजा और मुहर्रम को लेकर शुक्रवार को दिन के 2:30 बजे घैलाढ थाना परिसर में शान्ति समिति की बैठक आयोजित की  गयी. घैलाढ  थाना अध्यक्ष संजीवकुमार व अंचलाधिकारी सतीश कुमार एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी आशा कुमारी की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में दुर्गा पूजा मेला समिति एवं मुहर्र्म मेला समिति  के सदस्यों को शांतिपूर्ण तरीके से मेला  सम्पन्न  कराने को लेकर कई प्रकार के निर्णय लिये गये.
     पंडालो में सुरक्षा के मद्देनजर सहित महिला व पुरुषो के आने-जाने के लिए अलग-अलग व्यवस्था, पंडाल के आसपास पीने के पानी व्यवस्था, अँधेरे वालो जगहों पर लाईट की व्यवस्था करने आदि बातो पर चर्चा की गई. ताजिया के आने और जाने के मार्ग पर भी चर्चा की गई.

सैंकड़ों घरों में घुसा बारिश का पानी, जुगाड़ टेक्नोलॉजी के सहारे यातायात को मजबूर लोग

मधेपुरा में इन दिनों रुक रुक कर लगातार हो रही बारिश  के कारण नगर परिषद् के कई मुहल्ले की  सूरत बदल चुकी है. नगर परिषद् के सैकड़ों घरों में बारिश का पानी घुसा और हजारो लोगों की जिन्दगी नारकीय हो गई. चचरी के सहारे यातायात को मजबूर हैं नगरवासी.
       लगातार हो रही रिमझिम बारिशों ने नगर परिषद् के कई वार्डों में बाढ़ जैसे हालात पैदा कर दिए हैं. कमो-बेश नगर परिषद् के सभी मुहल्लों का एक ही जैसा हाल है. गुलजार बाग़ से लेकर रहमानगंज तक स्थिति है बेहद ख़राब तो लोगों को घरों से निकलना भी हो रहा है मुश्किल. नगर परिषद् और जिला प्रशासन भी कोई ध्यान नहीं दे रहे हैं. तत्काल नगरवासी जुगाड़ टेक्नोलाजी के सहारे जीवन यापन को हो रहे मजबूर. वहीँ जिलाधिकारी मो.सोहैल ने कहा जिला मुख्यालय समेत नगर परिषद् के इन कई वार्डों में पम्प सेट के सहारे पानी की निकासी की जा रही है, जल्द ही स्थिति सामान्य हो जाएगी.
मधेपुरा नगर परिषद् के वार्ड संख्या 13 रहमानगंज और गुलजार बाग़ मोहल्ले का नजारा देखकर सिहरन सी होने लगती है, जहाँ इन दिनों लगातार हो रही बारिशों के कारण सैकड़ों घरों में घुसा है पानी.

बी.एड. उत्तीर्ण छात्रों ने नामांकन को लेकर किया विश्वविद्यालय में प्रदर्शन, छात्र नेताओं के आन्दोलन को बताया काला आन्दोलन

एक तरफ जहाँ मंडल विश्वविद्यालय, मधेपुरा में संयुक्त छात्र संगठन के बैनर तले विभिन्न मांगों आमरण अनशन चल रहा है, जिनमें बीएड परीक्षा में हुई धांधली का मुद्दा भी शामिल है  वहीँ दूसरी तरफ बीएड में उत्तीर्ण छात्रों ने अलग मोर्चा खोल लिया है.
            बीएड उत्तीर्ण छात्र एकता संघर्ष समिति ने कल अपना प्रदर्शन करते हुए कहा कि विश्वविद्यालय में चोर ही चौकीदार को डांट रहा है. विश्वविद्यालय हमारा नामांकन अविलम्ब ले और पिछले सत्र के प्रथम वर्ष की परीक्षा भी जल्द ले. हम अपने अधिकार को लेकर लड़ाई लड़ रहे हैं तो दलाली करने वाले छात्र नेताओं के पेट में दर्द शुरू हो चुका है. ये विश्वविद्यालय का कार्य बाधित कर रहे हैं और इनका आन्दोलन काला आन्दोलन सिद्ध हो चुका है. वे बयानबाजी कर चला रहे फर्जी आन्दोलन को बंद करें वर्ना हम बीएड प्रवेश परीक्षा में उत्तीर्ण छात्र फर्जी छात्र नेताओं के खिलाफ उग्र आन्दोलन शुरू करेंगे.
            उन्होंने कहा कि हम लोगों को छात्र राजद का भी समर्थन मिल चुका है. प्रदर्शन में मुख्य रूप से उपस्थित छात्र गौतम कुमार, विजय कुमार, सोनू कुमार, सुरेश कुमार, लेनिन आदि थे.

छात्र संगठन का अनशन लगातार 12वें दिन जारी: अनशनकारियों ने लगाया अपने साथ दुर्व्यवहार का आरोप

मधेपुरा के भूपेन्द्र नारायण मंडल विश्वविद्यालय में संयुक्त छात्र संगठन के बैनर तले चल रहे आमरण अनशन का आज 12वां दिन है, पर सुधि लेने वाला कोई नहीं. अधिकारी खामोश हैं और सामान्य छात्र अपने भविष्य को लेकर बेहद चिंतित. परीक्षा और परीक्षा परिणाम को लेकर छात्रों का भविष्य दांव पर लग गया है.
            कल ११वें दिन के अनशन के दौरान अनशन पर बैठे छात्र नेता मनीष कुमार तथा हर्षवर्द्धन सिंह राठौर ने आरोप लगाया कि बड़ी संख्यां में आये कुछ छात्रों ने अनशनकारी तथा अन्य छात्रों के साथ दुर्व्यवहार, गाली-गलौज किया और जान से मारने की भी धमकी दी. संयुक्त छात्र संगठन ने डीएम और एसपी को पत्र लिखकर सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े किये और कहा कि प्रतिनियुक्त मजिस्ट्रेट और पुलिस गार्ड शुरू से ही नहीं आ रहे हैं. उन्होंने कहा कि छात्रों को गुमराह करने वाले दलालों की हरकत शर्मनाक है और छात्र हित की इस लड़ाई को जितना भी तोड़ने का प्रयास किया जाएगा, आन्दोलन उतना ही मजबूत और धारदार होगा.

गुरुवार, 29 सितंबर 2016

भारतीय सेना के सर्जिकल स्ट्राइक के समर्थन में पटाखों की गडगडाहट से गूंजा मधेपुरा


पाक अधिकृत कश्मीर में घुसकर भारतीय सेना के द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तानी सैनिकों समेत कम से कम 40 आतंकवादियों को मार गिराने के बाद जहाँ देश भर में जश्न का माहौल है वहीं मधेपुरा में भी युवकों का उत्साह चरम पर है. मधेपुरा और कोसी से जुड़े लोग जहाँ सोशल मीडिया पर अपनी जोश भरी प्रतिक्रिया व्यक्त कर रहे हैं वहीं आज जिले के कई जगहों पर जम कर पटाखे फोड़े गए और पाकिस्तानी झंडों को भी जलाया गया.
            मधेपुरा जिला मुख्यालय में भी मेन मार्केट में युवकों का हुजूम उमड़ पड़ा और उन्होंने घंटों पटाखे फोड़कर अपनी ख़ुशी का इजहार किया. युवकों ने भारतीय सेना को सलाम करते हुए उड़ी में आतंकी हमले में शहीद भारतीय सैनिकों की मौत का बदला भारत द्वारा लेने पर ख़ुशी जताई. दर्जनों युवक नीरज यादव, राहुल रीगन, अनिल गुप्ता, रामचंद्र राज, गुंजन कुमार, विकी विनायक, सुनित साना, श्रीकांत राय समेत दर्जनों युवकों ने भारतीय सैनिकों की ताजा कार्रवाई का स्वागत करते हुए एक दूसरे को अबीर गुलाल लगा कर मिठाइयाँ खिलाईं. पाकिस्तान के झंडे जलाये गए और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाये गए.
उधर मधेपुरा जिले के मुरलीगंज नगर पंचायत में भी आज शाम कश्मीर के उड़ी सैनिक कैंप पर पाकिस्तानी हमले में मारे गए सैनिकों के बाद भारत की ओर से बुधवार की रात भारतीय सैनिकों द्वारा किए गए सर्जिकल स्ट्राइक के तहत की गई कार्रवाई के बाद राजनीतिक एवं गैर राजनीतिक संस्था के लोगों ने जयरामपुर सिनेमा हॉल चौक के पास एक लंबी आतिशबाजी की और पाकिस्तान विरोधी नारे लगाए. मौके पर मुकेश कुमार सिंह विकासानंद प्रदीप भगत रितेश निराला अविनाश पासवान प्रदीप भगत रविंद्र भगत अंकित अग्रवाल इन लोगों के साथ साथ जयरामपुर की जनता ने भी इस आतिशबाजी में भाग लिया.
(वीडियो यहाँ देखें, क्लिक करें )
(नि.सं.)

Good News: मधेपुरा में उद्योग लगाने को लेकर ‘इन्वेस्टर्स मीट’ में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय कंपनियों ने लिया भाग

मधेपुरा में उद्योग लगाने को लेकर जिलाधिकारी मो सोहैल की अध्यक्षता में गुरूवार को झल्लू बाबू सभागार में निवेशक सम्मलेन आयोजित किया गया,  जहाँ बिहार के अलावे अंतर राज्य और अंतर राष्ट्रीय फ्रांस की अलस्टोम कंपनी के अलावे एक दर्जनों से अधिक छोटे-बड़े निवेशकों ने भाग लिया.
      सम्मलेन में उद्योग लगाने पर विशेष चर्चा की गयी. आयोजित कार्यकर्म की उद्घाटन कोसी प्रमंडलीय आयुक्त कुंवर जंग बहादुर ने दीप प्रजव्लित कर किया. जानकारी के अनुसार मधेपुरा में उद्योग लगाने को लेकर जिलाधिकारी ने एक माह पूर्व हीं बिहार समेत कई राज्यों के निवेशकों को आमन्त्रण भेजकर कर मधेपुरा बुलाया जिससे मधेपुरा में छोटे-बड़े उद्योग लग सके और यहाँ के लोगों को रोजी-रोजगार भी मिल सके. इस मौके पर जिलाधिकारी मो.सोहैल ने अध्यक्षता करते हुए सबसे पहले सभागार में मौजूद आयुक्त को बुके प्रदान कर संबोधित करते हुए कहा कि मधेपुरा हर दृष्टि कोण से अच्छा शहर है. यहाँ देवाधिदेव महादेव का प्रसिद्ध सिंघेश्वर धाम भी है जो उतर बिहार का देवघर कहा जाता है. भौगोलिक दृष्टि कोण से सभी प्रकार की सुविधा है. रोड मार्ग से लेकर रेल मार्ग भी है. सुरक्षा के लिहाज से भी अच्छी व्यवस्था है और कहीं से कोई परेशानी की बात नहीं है. सस्ते मजदूर के अलावे बिजली पानी की भी उचित व्यवस्था है, और जहाँ जिला मुख्यालय में 24 घंटे बिजली है वहीं ग्रामीण इलाकों में भी 22 घंटे बिजली की व्यवस्था है .भूमि भी प्रयाप्त मात्रा में उपलब्ध है.

मधेपुरा: वज्रपात से झुलस कर वार्ड सदस्य के पति की मौत

मधेपुरा समेत कोसी के इलाकों में कल यानि बुधवार की शाम हुई तेज बारिश के दौरान हुए वज्रपात से जगह-जगह क्षति के समाचार हैं. इस दौरान मधेपुरा जिले में भी एक मौत की सूचना मिली है. एक व्यक्ति की मौत हो गयी.
     मिली जानकारी अनुसार जिले के चौसा थानाक्षेत्र में मोरसंडा पंचायत के वार्ड नंबर ग्यारह करेलिया टोला निवासी

बेलदौर से कालाबाजारी के लिए पश्चिम बंगाल ले जा रहे चावल को मधेपुरा पुलिस ने पकड़ा

सरकारी अनाज की कालाबाजारी के मामले अक्सर ही सामने आते रहते है. जन वितरण प्रणाली की दुकानों से डीलरों के द्वारा बाजार में चावल, गेहूं आदि बेच देना नई बात नहीं है, पर सरकारी अनाज को सैंकड़ों किलोमीटर दूर जाकर बेचने का मामला संभवत: पहली बार मधेपुरा में प्रकाश में आया है.
            मधेपुरा जिले और थाना अंतर्गत मिठाई ओपी क्षेत्र में आज पुलिस ने शक के आधार पर जब चावल और धान से भरे ट्रक की जांच की तो पता चला कि ये सरकारी अनाज हैं

मधेपुरा में स्टेट बैंक के सामने डिक्की तोड़ने का प्रयास करते दो अपराधी पुलिस-पब्लिक के हत्थे चढ़े

मधेपुरा शहर मॆ मोटरसाइकल की डिक्की से औऱ वाहन से पैसे की चोरी इन दिनो सरदर्द बन चुकी थी. कल जहाँ पुरानी कचहरी परिसर से करीब सवा लाख रूपये शीशा तोड़ कर अपराधी लेकर चलते बने वहीँ आज पराये धन को हथियाने का प्रयास अपराधियों को महंगा पड़ गया.
      आज़ अभी कुछ देर पहले लगभग 11:30 बजे स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की मुख्य शाखा के नजदीक एक अपराधी द्वारा एक मोटरसायकिल की डिक्की को खोलने का प्रयास करते मधेपुरा पुलिस के कमांडो बिपिन कुमार और उसके सहयोगियों की नजर पड़ गई.

बुधवार, 28 सितंबर 2016

डीएम ने किया इफको किसान बाजार का उद्घाटन, दी किसानों को उपयोगी जानकारी

इफको किसान बाजार का उद्घाटन करते हुए डीएम मो. सोहैल ने  मघेपुरा जिला के सिंहेश्वर  प्रखंड स्थित लालपुर के लक्षमिनिया टोला में किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि बिहार की  80  प्रतिशत आबादी गावों में बसती है, जो कृषि पर निर्भर है.  जब तक कृषि का विकास नही होगा तब तक समाज का विकास नही हो सकता. किसान ही विकास की रीढ़ है. आज किसान आधुनिक तकनीक अपना कर कृषि उत्पादन को बढा सकता है. उन्होंने किसानों से अपील करते हुए कहा कि हमारे मघेपुरा जिला में सात लाख गायें हैं, इसलिये हम खेत में चौकी देने से पहले अगर गाय के गोबर का इस्तेमाल खेत में करे तो हमे अच्छी फसल की उपज प्राप्त होगी.
       उन्होंने किसान बीमा का भी जिक्र करते हुए उसके बारे में भी बताया कि 2 प्रतिशत देकर फसल बीमा जरूर कराये.
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...