गुरुवार, 30 जुलाई 2015

मवेशी व्यापारी को गोली मार रूपये लूटने वाले गिरफ्तार

कल सुबह भर्राही ओपी क्षेत्र के चौरा-भेलाही के पास मवेशी व्यापारियों पर गोलियां चला कर उनसे 01 लाख 30 हजार रूपये लूटने की घटना के बाद मधेपुरा पुलिस द्वारा बनाई गई टीम में इस घटना में संलिप्त कुल चार अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल कर ली है.
    मिली जानकारी के अनुसार गुप्त सूचना के आधार पर मधेपुरा के राजपुर पेट्रोल पम्प के पास से ग्वालपाड़ा के तूफानी यादव को मधेपुरा पुलिस की टीम ने पहले गिरफ्तार किया और फिर उसकी निशानदेही पर मधेपुरा कॉलेज चौक के पास रहने वाले सनोज कुमार यादव, शंकरपुर के राहुल कुमार और गम्हरिया के मुकेश कुमार को भी दबोचने में भी पुलिस कामयाब रही.
    बताया गया कि अपराधियों ने लूट काण्ड में अपनी संलिप्तता स्वीकार कर ली है और ये पूर्व में भी अन्य अपराध में शामिल थे.  घटना के महज कुछ ही घंटे के अंदर इन अपराधियों की गिरफ्तारी को मधेपुरा पुलिस की अहम सफलता से जोड़कर देखा जा सकता है. अपराधियों की गिरफ्तारी में पुलिस के अधिकारियों के अलावे कमांडो टीम भी महत्वपूर्ण भूमिका बताई जा रही है. (नि.सं.)

भाजपा कार्यकर्ता सम्मलेन में बिहार चुनाव प्रभारी भूपेन्द्र यादव पहुंचे मधेपुरा

आगामी विधानसभा चुनाव में पार्टी को जीत दिलाने और लोगों में भारतीय जनता पार्टी के प्रति विश्वास जगाने आज भाजपा के राष्ट्रीय महामंत्री सह बिहार चुनाव प्रभारी भूपेन्द्र यादव मधेपुरा पहुंचे.
    बिहार प्रभारी श्री यादव मधेपुरा पहुँच कर पहले पिछड़ों के मसीहा स्व० बी० पी० मंडल के गाँव मुरहो गए, जहाँ उन्होंने मंडल मसीहा की समाधी स्थल पर माल्यार्पण किया और एक जनसभा को संबोधित किया. उसके बाद बिहार चुनाव प्रभारी भूपेन्द्र यादव ने मधेपुरा जिला मुख्यालय के रास बिहारी हाई स्कूल के मैदान में कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. भूपेन्द्र यादव ने कहा कि बिहार में परिवर्तन की लहर है और इस बार यहाँ भी एनडीए की सरकार का बनना तय है. राज सुप्रीमो लालू यादव पर निशाना साधते हुए बिहार चुनाव प्रभारी ने कहा कि लालू यादव टमटम चलाने की बात कहते हैं जबकि हम यह कहना चाहते हैं कि हमारे साथ के कुछ नौजवान घोड़े पर सवार हैं और जेट विमान भी चला सकते हैं. हम अपने परिवार और समाज को चलाना चाहते हैं, हम इतिहास और गौरव, संस्कृति और मर्यादा को चलाना चाहते हैं. उन्होंने युवाओं से अपील की कि भाजपा को जिताकर बिहार को फिर से उंचाई और गौरव पर ले जाइए. केंद्र में भाजपा की उपलब्धियों को गिनाते हुए उन्होंने नीतीश और लालू ने पिछड़ों के साथ धोखा किया है. सामजिक न्याय की इस धरती से मैं कहना चाहता हूँ कि हमारे सामजिक न्याय का अर्थ लोगों को बांटना नहीं बल्कि सबों को आगे बढ़ने का अवसर प्रदान करना है. हम समाज के सभी वर्गों को जोड़कर उन्हें आगे ले जाना चाहते हैं.
    इससे पहले भाजपा के बिहार चुनाव प्रभारी के आगमन पर भाजपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने उनका भव्य स्वागत किया.

काली मंदिर को भी नहीं छोड़ा: दान पेटी तोड़कर रूपये उडाए

हाल में ही चोरों ने मधेपुरा के एक शिव मंदिर का दंपति तोड़कर रूपये उड़ा लिए थे और अब मधेपुरा जिला मुख्यालय में चोरों ने फिर एक बार दुस्साहस का परिचय देते हुए एक काली मंदिर के दान पेटी को तोड़कर रूपये उड़ा लिए.
    मिली जानकारी के अनुसार मधेपुरा-सहरसा रोड में भिरखी पुल के पास नवटोलिया वार्ड नं.21 में मौजूद दक्षिणेश्वर काली मंदिर का दान पेटी जब सुबह में गायब मिला तो लोगों ने उसे खोजना शुरू किया. दानपेटी पास के खेत में टूटा पड़ा था और उसके सारे रूपये गायब थे.
    मंदिर समिति के अध्यक्ष गोपी ने बताया कि दान पेटी करीब एक साल से नहीं खुला था और अंदाजा है कि उसमें कम से कम सात-आठ हजार जरूर होंगे.

ध्यान मध्यान्ह भोजन पर, आते हैं 10 में, हाजरी बनाते हैं 9 का: हाल विद्यालय का

लगातार  गिर रही  शिक्षा व्यवस्था  को दुरुस्त करने का दूर-दूर तक  कोई  विकल्प  नजर नहीं आ रहा है.  प्रतीत होता है कि इसका सीधा सा कारण है कि शिक्षकों  का  पूरा ध्यान मध्यान्ह भोजन में  किस तरह से  पैसा बचाया जाए, इस पर ही रहता है.
     ताजा मामला है सिंहेश्वर प्रखंड के अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय गुलतारा में जब ग्रामीणों के  शिकायत पर 9.45 बजे संवाददाताओ की टीम पहुंची. विधालय में  शिक्षक नही पहुँचे थे और बच्चे बाहर खेल रहे थे. ग्रामीणों ने मोबाइल पर प्रधानाचार्य को सूचित किया तो 10 बजे प्रधानाचार्य ने आते ही कार्यालय खोल कर 9 बजे का  हाजरी बनाया. वहीं  उनके साथ। आये शंभू  कुमार और रजनीश कुमार ने 10 बजे  का समय  भरा. बाद में  आये  शिक्षकों  ने भी  शिड्यूल के  मुताबिक  9 बजे का समय भर कर बाहर ग्रामीणों को ही विद्यालय की शिकायत नहीं  करने  सलाह  देते रहे. ग्रामीणों ने  बताया  कि 11  जुलाई से 24  जुलाई  तक मध्यान्ह भोजन  नहीं  बना है तो बच्चों ने बताया कि शनिवार से मध्यान्ह भोजन शुरू हुआ है. वहीं प्रधानाचार्य  मो. नाजमुद्दीन साहब ने कहा कि मध्यान्ह भोजन 15 जुलाई से 21 तक बंद है. रसोईया ने कहा मध्यान्ह भोजन  लगभग दस दिन से बंद है. मध्यान्ह भोजन का पंजी प्रधानाचार्य  के घर पर ही रहने  के कारण उसका निरीक्षण नही हो सका.
      इससे कुछ दिन पूर्व भोजन में कीड़ा निकलने पर छात्रो ने सडक  जाम कर दिया था. उस समय भी मध्यान्ह भोजन  का पंजी  घर पर ही था, अधिकारियों ने  इस बात पर प्रधानाचार्य को फटकार भी लगाई  थी. इस बावत  बीईओ यदुवंश प्रसाद ने कहा  मामले की जांच कर  सख्त कारवाई की  जायेगी.

बुधवार, 29 जुलाई 2015

पूर्व राष्ट्रपति डॉ० कलाम को श्रद्धांजलि का सिलसिला जारी

भारत के पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक डॉ० एपीजे
अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि अर्पित करने का सिलसिला मधेपुरा में जारी है. कल जहाँ जिला मुख्यालय के सेंट विलियम्स स्कूल, किरण पब्लिक स्कूल, होली क्रॉस स्कूल, साउथ प्वाइंट स्कूल, मधेपुरा समेत कई निजी स्कूलों ने डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि अर्पित की, वहीँ जिला मुख्यालय स्थित अहम् कम्प्यूटर संस्था समिधा ग्रुप में भी छात्र-छात्राओं ने पूर्व राष्ट्रपति को मौन रहकर श्रद्धांजलि अर्पित की. नगर परिषद् अध्यक्ष डॉ० विशाल कुमार बबलू और वार्ड पार्षदों ने भी डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम के सम्मान में मौन रखा.
    श्रधांजलि का सिलसिला मधेपुरा में जारी है और आज मंडल विश्वविद्यालय में अधिकारियों के द्वारा, जिला अधिवक्ता संघ में अधिवक्ताओं के द्वारा, मधेपुरा कॉलेज में शिक्षकों, कर्मचारियों और छात्रों के द्वारा, दार्जीलिंग पब्लिक स्कूल के शिक्षक और छात्रों के द्वारा श्रद्धांजलि के अलावे अन्य कई संस्थाओं ने भी डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम के सम्मान में मौन रखा.
    मधेपुरा के इतिहास में शायद ये पहला ऐसा मौका है जहाँ सारे लोग मिसाइल मैंन के निधन पर शोकाकुल हैं और सभी राजनीतिक दल के नेताओं ने भी एक साथ मिलकर डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम की आत्मा की शान्ति के लिए प्रार्थना की.

'बीएनएमयू में फनीश्वरनाथ रेणु शोधपीठ की स्थापना अपरिहार्य'

फनीश्वरनाथ रेणु कोसी की माटी के लेखक हैं. उनकी रचनाओं में कोसी प्रतिबिंबित होता है. उनके अवदान से कोसी की युवा पीढ़ी अवगत हो, इसलिए मंडल विश्वविद्यालय में रेणु शोधपीठ की स्थापना अपरिहार्य है.
    छात्र संगठन एनएसयूआई द्वारा महान रचनाकार 'फणीश्वर नाथ रेणु शोधपीठ' की स्थापना पर आयोजित विमर्श कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए मंडल विश्वविद्यालय के प्रभारी कुलपति डॉ० जे. पी. एन. झा ने उक्त बातें कहीं.
     विमर्श गोष्ठी में मधेपुरा के साहित्यकार डॉ० सिद्धेश्वर काश्यप ने रेणु को साहित्य के क्षेत्र में नवीन मूल्य क्रान्ति करने वाला लेखक बताया. उन्होंने कहा कि फनीश्वरनाथ रेणु की महान कृति 'परती परिकथा' और 'मैला आँचल' के लेखक के लिए यहाँ रेणु शोधपीठ की स्थापना अपेक्षित है. विचार गोष्ठी में डॉ० आर० के० पी० रमण, डॉ० एस. के. ओझा, डॉ० भूपेन्द्र मधेपुरी आदि ने भी अपने विचार रखें और शोधपीठ की आवश्यकता जताई.
    एनएसयूआई के सुदीप कुमार ने रेणु शोधपीठ की स्थापना तक आन्दोलन चलाने के अभियान का संकल्प व्यक्त किया. एनएसयूआई के राष्ट्रीय प्रतिनिधि प्रभात कुमार मिस्टर ने कहा कि फणीश्वर नाथ रेणु हिन्दी साहित्य में आंचलिकता को प्रतिष्ठित करने वाले क्रांतिकारी लेखक है. उनके नाम पर हम शोधपीठ की स्थापना के लिए कृत संकल्प हैं. वहीं एनएसयूआई के प्रदेश महासचिव मनीष कुमार ने रेणु को हमारी साहित्यिक धरोहर बताते हुए शोधपीठ की स्थापना की मांग की.
    विचार गोष्ठी में डॉ० ललितेश मिश्र, डॉ० जे० एन० राय, डॉ० शिव बालक प्रसाद, डॉ० विद्यानंद मिश्र, डॉ० नरेंद्र प्रसाद, डॉ० विश्वनाथ विवेका, प्रो० शैलेन्द्र यादव, डॉ० नरेंद्र श्रीवास्तव समेत काफी संख्यां में लोग मौजूद थे और अंत में पूर्व राष्ट्रपति डॉ० ऐपीजे अब्दुल कलम को श्रद्धांजलि भी दी गई.

सुपौल: महिला के कॉल डिटेल्स ने खोल दिया मुखिया की हत्या का राज

सुपौल| सुपौल जिले के करजाईन थाना क्षेत्र के परमानंदपुर के चर्चित मुखिया मो० युसूफ हत्याकांड का पुलिस ने खुलासा किया है. गत सप्ताह हुए मुखिया के अपहरण और बाद में की गई हत्या के इस सुलग चुके मामले में पुलिस ने एक महिला सहित दो लोगों को गिरफ्तार किया है. पुलिस के अनुसार मृतक मुखिया के पडोसी मो नईम से पुरानी रंजिस की बात सामने आने पर मो नईम की पत्नी बीबी सबरून के कॉल डिटेल्स के आधार पर पूछताछ में हत्या का खुलासा हो पाया है.
         करजाईन थानाध्यक्ष उदय कुमार यादव ने बताया कि सबरून सहित निर्मली थानाक्षेत्र के मझारी निवासी मो अयुब व लौकही थानाक्षेत्र  के खडगपुर निवासी मो मक्तार को गिरफ्तार किया गया है, जिसने घटना को अंजाम दिये जाने की बात को स्वीकार किया है. बताया कि इस मामले की अनुसंधान जारी है घटना अन्य संलिप्त लोगों की गिरफतारी शीघ्र की जायेगी .बता दें कि मामले के पटाक्षेप में पुलिस अधीक्षक पंकज राज ने एक टीम गठित की थी जिसमें वीरपुर, त्रिवेणीगंज व निर्मली के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी शामिल थे.

दिन-दहाड़े मवेशी व्यवसायी पर चलाई अंधाधुंध गोलियां: लूटे 1,30,000 रूपये

मधेपुरा जिला और थाना के भर्राही ओपीक्षेत्र में एक मवेशी व्यवसायी को अज्ञात अपराधियों ने गोली मारकर उसके पास मौजूद 1 लाख 30 हजार रूपये लूट लिए.
         मिली जानकारी के अनुसार आज सुबह करीब 9 बजे पुरनियाँ जिले के बनमनखी थानान्तर्गत मोहनियां गाँव से पिक-अप वैन से आ रहे सात मवेशी व्यवसायियों को दो मोटरसायकिल पर सवार चार हथियार बंद अपराधियों ने चौरा-भेलाही के पास रोककर उनपर अंधाधुंध गोलियां चलानी शुरू कर दी. सभी मवेशी व्यवसायी डर से वैन में दुबक गए. तब अपराधियों ने पिस्टल दिखाकर उनके पास मौजूद 1 लाख 30 हजार रूपये लूट लिए और भाग गए. बताया गया कि अपराधियों ने बिरेन्द्र यादव से 80 हजार रूपये तथा अरविन्द यादव से 50 हजार रूपये लूटे. फायरिंग मवेशी व्यवसायी बिरेन्द्र यादव को तीन गोलियां लगने की सूचना है और उसे अत्यंत गंभीर हालत में सदर अस्पताल मधेपुरा में दाखिल कराया गया.
        सूचना पाकर सदर एसडीपीओ कैलाश प्रसाद तथा भर्राही पुलिस घटना की तहकीकात करने पहुँच गए थे.

जान पर खतरे को देखते हुए सांसद पप्‍पू यादव को केंद्र ने दी वाई श्रेणी की सुरक्षा

केंद्र सरकार ने सांसद राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव को वाई श्रेणी की सुरक्षा प्रदान कर दी है. इस संबंध में केंद्रीय गृहमंत्रालय ने अधिसूचना जारी कर दी है. गृह मंत्रालय से जारी अधिसूचना की प्रति चीफ सेक्रेटरी और डीजीपी बिहार को भेज कर इसकी सूचना दी है. पत्र में बिहार सरकार को कहा गया है कि राजनीतिक प्रतिद्वंदिता, अपराधियों, सीपीआई (माओवादी) तथा आनेवाले विधानसभा चुनाव के खतरे के मद्देनजर उन्हें तुरंत वाई श्रेणी की सुरक्षा से कवर किया जाय.
         सांसद पप्‍पू यादव के प्रेस प्रवक्‍ता रंजन सिन्‍हा ने बताया कि उनको वाई श्रेणी की सुरक्षा उनके जीवन पर बढ़ रहे खतरे को लेकर दी गयी है. केंद्र सरकार ने राजनीतिक प्रतिस्‍पर्धा, आपराधिक वारदात और माओवादी हमलों की आशंका को देखते हुए यह सुरक्षा प्रदान की है.

फ्रेंड्स ऑफ आनंद ने दिया 'हम' को समर्थन: मांझी ने कहा अब बिहार से नीतीश और जंगलराज का सफाया तय

पटना के रविन्द्र भवन में फ्रेंड्स ऑफ़ आनंद के राज्यस्तरीय कार्यकर्त्ता समागम कार्यक्रम में बिहार के लगभग सभी जिलों के हजारों कार्यकर्त्ताओं की उपस्थिति में आज पूर्व सांसद आनंद मोहन के पुत्र चेतन आनन्द और पत्नी पूर्व सांसद लवली आनंद ने जीतन राम मांझी की पार्टी 'हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा' (हम) को अपना समर्तःन देने की घोषणा की.
    पटना के रविन्द्र भवन में फ्रेंड्स ऑफ आनंद के कार्यकर्ता सम्मलेन के दौरान अचानक मंच पर अचानक अतिथि के रूप में जीतन राम मांझी ,शकुनी चौधरी, वृषण पटेल आदि कई हम पार्टी के नेताओं के आने से ही हॉल में उपस्थित मीडियाकर्मियों तथा अन्य लोगों को यह संकेत मिलने लगा था कि शायद आज का निर्णय हिन्दुस्तानी अवाम मोर्चा के साथ जाने का हो. मौके पर चेतन आनंद ने घोषणा करते हुए कहा कि हमने पहले कहा था कि हम 29 तारिक को ऐतहासिक फैसला लेंगे और आज हमलोगों फैसला हम है.
      कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पूर्व सांसद लवली आनंद का कहना था कि हमने जिस-जिस पार्टी को साथ दिया वो सभी हमें परेशान करने वाले पार्टियों के साथ मिल गए, हमने अपनी पांच मांगे रखी थी जिसे जीतन राम मांझी जी ने स्वीकारा. अतः मैं अपने पार्टी के साथ 'हम' पार्टी को स्वीकारते हैं और उन्हें समर्थन देते हैं. आज हमारी ताकत बढ़ गयी है और इस विधानसभा चुनाव के बाद नीतीश कुमार और लालू यादव का नामोनिशान मिट जायेगा.
    पूर्व मुख्यमंत्री और हम नेता जीतन राम मांझी ने कहा कि हमें लग रहा था कि हमारे पार्टी में कहीं-न-कहीं कोई कमी है और फ्रेंड्स ऑफ आनंद के साथ आ जाने से सारी कमियां दूर हो गई है और लवली आनंद जी ने जिन पांच मांगों को रखा है वो तो हमारी विचारधारा का ही हिस्सा है और हम तो उन्हीं बातों पर काम भी कर रहे हैं. फ्रेंड्स ऑफ आनंद के साथ आने से अब हम पूर्ण हो गए हैं और अब यह दावे के साथ कह सकते हैं कि आगामी विधानसभा चुनाव में बिहार से शत-प्रतिशत नीतीश कुमार और जंगलराज का सफाया कर देंगे. (पटना से नि.सं.)

मंगलवार, 28 जुलाई 2015

हेपेटाइटिस बी एड्स से भी सौ गुना अधिक संक्रामक बीमारी: डॉ० ओम

आज विश्व हेपेटाइटिस दिवस पर मधेपुरा जिला मुख्यालय में पल्लवी हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर में हेपेटाइटिस बी के टीकाकरण के कार्यक्रम में लोगों की खासी उपस्थिति रही. सुबह करीब आठ बजे से शुरू हुए टीकाकरण और जांच कार्यक्रम में देर शाम तक 58 लोगों की जांच चिकित्सकों के दल ने की.
       मौके पर उपस्थित डॉ० ओम नारायण यादव ने हेपेटाइटिस बी के बारे में अहम् जानकारी देते हुए बताया कि यह बीमारी संक्रमण के मामले में एड्स से भी सौ गुना अधिक संक्रामक बीमारी है. यह रेजर लगने, दूसरे के ब्रश से मुंह धोने, असुरक्षित यौन सम्बन्ध, ब्लड ट्रांसफ्यूजन आदि से फैलता है. एक बार बीमारी हो जाने के बाद फिर टीकाकरण की कोई गुंजाइश नहीं रह जाती है, फिर एंटी वायरल ट्रीटमेंट किया जाता है. इसलिए टीकाकरण व्यक्ति को जरूर करवाना चाहिए. भारत सरकार अभी एक वर्ष तक के बच्चों के लिए मुफ्त टीका की व्यवस्था की है, पर यह सभी लोगों को लेना चाहिए. टीकाकरण से न सिर्फ हेपेटाइटिस बी से बचा जा सकता है जबकि लीवर आदि के संक्रमण से भी बचा जा सकता है. बचाव ही इस प्राणघातक बीमारी से लोगों को पूरी तरह सुरक्षा दे सकता है.

मधेपुरा में सर्वदलीय नेताओं ने एक साथ मिलकर दी डॉ० कलाम को श्रद्धांजलि

भारत के पूर्व राष्ट्रपति और महान वैज्ञानिक डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि अर्पित करने आज जिला मुख्यालय में सभी राजनीतिक दलों के नेता एक साथ इकठ्ठा हुए.
    जिला मुख्यालय के बड़ी दुर्गा स्थान में आज शाम बसपा नेता गुलजार कुमार उर्फ़ बंटी यादव द्वारा आयोजित एक शोकसभा में मधेपुरा के कई प्रमुख राजनीतिक दलों के नेताओं के अलावे शहर के बुद्धिजीवियों और व्यवसायियों ने भी हिस्सा लिया. मौके पर वक्ताओं ने उन्हें दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धांजलि देने से पहले कहा कि डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम का जाना भारत को अपूरणीय क्षति दे गया. डॉ० कलाम जात-धर्म से ऊपर उठकर देश की अभूतपूर्व सेवा की. हमें गर्व है कि हमारे देश की धरती पर पूर्व राष्ट्रपति डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम जैसे भारत रत्न पैदा हुए.
    कार्यक्रम में मौजूद नेताओं और बुद्धिजीवियों ने कैंडल जलाया और मौन रहकर डॉ० एपीजे अब्दुल कलाम को श्रद्धांजलि अर्पित की. कार्यक्रम में मुख्य रूप से भाजपा नेता अनिल कुमार यादव, अभाष आनंद झा, अरिविंद कुमार अकेला, आनंद मंडल, राजद नेता प्रभाष यादव, नगर परिषद् अध्यक्ष डॉ० विशाल कुमार बबलू, जदयू नेता डॉ० नीरज कुमार, जाप नेता सीताराम यादव, वार्ड पार्षद मुकेश कुमार, मुकेश कुमार मुन्ना के अलावे काफी संख्यां में नेता, बुद्धिजीवी और व्यवसायी शामिल थे.
Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...