11 अप्रैल 2018

14 अप्रैल से लगने वाले राजकीय बाबा विशु राउत मेला के निरीक्षण को पहुँचे मधेपुरा डीएम

मधेपुरा जिला के चौसा प्रखंड अन्तर्गत लौआलागान के पचरासी स्थान में बाबा विशु राउत मेला के राजकीय मेला होने से आज मधेपुरा जिला पदाधिकारी मो. सोहैल मेला निरिक्षण करने पहुंचे तथा अधिकारियों को कई निर्देश दिए।

जिलाधिकारी ने मेला को सफल बनाने के लिए मेला कमिटी और ग्रामीणों के साथ बैठक कर शांति पूर्ण तरीके से इसे संपन्न करने की बात की और साथ ही सरकारी फंड से करीब 10 लाख रूपये राशि की सम्भावना व्यक्त किया ।

मालूम हो कि पूर्वोत्तर बिहार के मधेपुरा जिला के सुदूर इलाका चौसा प्रखंड के लौआलगान का  पचरासी स्थान, जो भागलपुर तथा खगड़िया जिले के के सीमा पर अवस्थित है, में बाबा विशु राउत मेला जो पशु पलकों के लोक देवता के नाम से प्रसिद्ध है, बिहार सरकार ने राजकीय मेला घोषित किया। राजकीय मेला होने की वजह से आज मधेपुरा जिला के जिला पदाधिकारी मोहम्मद सोहैल मेला में विधि  व्यवस्था जायज लेने पहुंचे. इनके साथ उदकिशुगंज एसडीएम एस जेड हसन थे.

 
सुनिए क्या कहा मधेपुरा डीएम ने
मधेपुरा टाइम्स के एक सवाल पर कि इस बार राजकीय मेला होने की वजह से प्रशासन की तरफ से क्या इंतजाम है, पर जिला पदाधिकारी ने बताया कि मेला में लोगों के बैठने, शौचालय, स्वच्छ पानी, सुरक्षा आदि की बेहतर व्यवस्था की जायेगी और साथ ही अच्छे कलाकार को मेले में बुलाया जाएगा। इसकी राशि के लिए सरकार को सूचना भेजी  गई है, करीब 8 से 10 लाख रूपये मेला फंड में मिलने की उम्मीद है और मेले का उदघाटन 14 अप्रैल को किया जाएगा।

इस अवसर पर चौसा प्रखंड विकास पदाधिकारी मोहम्मद इरफ़ान अकबर, अंचल अधिकारी अजय कुमार समेत कई अधिकारी मौजूद थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...