23 मार्च 2018

कैसे हो विकास?: पंचायत समिति की बैठक का सदस्यों ने किया बहिष्कार

मधेपुरा जिले के गम्हरिया प्रखंड मुख्यालय स्थित किसान भवन में शुक्रवार को आयोजित पंचायत समिति की बैठक का पंचायत समिति सदस्यों के द्वारा बहिष्कार किया गया. 

बैठक में नहीं पहुंचे पंचायत समिति सदस्य, बैठक खत्म होते-होते एक समिति सदस्य ही पहुंच सके.

मिली जानकारी के अनुसार दिन के 11:00 बजे से बैठक होनी थी, जिसमें प्रखंड के सभी पंचायत समिति सदस्य, प्रमुख मुखिया एवं पूरे प्रखंड के पदाधिकारी को बैठक में मौजूद होना था, मगर 1:00 बजे तक पंचायत समिति सदस्य नहीं पहुंचे जिस कारण बैठक के अध्यक्ष प्रखंड प्रमुख शशि कुमार के द्वारा बैठक को स्थगित कर दिया. पंचायत समिति सदस्यों ने बताया कि पंचायत समिति की बैठक 2 महीने पर करना है मगर पिछले वर्ष 27 दिसंबर 2016 को हुई थी. लेकिन 15 माह बीत जाने के बाद 23 मार्च को बैठक बुलाया गया है जो नियमानुसार नहीं है. इसको लेकर हम लोगों ने बैठक का बहिष्कार किया.

दूसरी ओर गम्हरिया प्रखंड के पंचायत समिति की पहली बैठक में ही स्थाई समिति का गठन किया जाना था जो कि अभी तक नहीं किया गया है. वहीँ पूर्व में ही दो समान बैठक हुई है जिसमें विभिन्न विभाग से पदाधिकारी के बदले की किरानी एवं चपरासी भाग लेते हैं ना कि पदाधिकारी बैठक में मौजूद होते हैं, जिससे समस्याओं का समाधान हो सके. विगत बैठक में पंचायत समिति सदस्यों के द्वारा जो भी प्रस्ताव लिया गया है उसका अनुपालन पदाधिकारी के द्वारा नहीं किया जाता है जिस कारण हम सभी पंचायत समिति बैठक का बहिष्कार करते हैं.

बैठक बहिष्कार करने में उप प्रमुख दिनेश चौधरी, मिथिलेश कुमार पंचायत समिति सदस्य औराही, रामकुमार पंचायत समिति सदस्य चिकनी फुलकाहा, पांडव कुमार पंचायत समिति सदस्य चिकनी, राजकुमारी देवी पंचायत समिति सदस्य भेलवा, निर्मला देवी पंचायत समिति सदस्य बभनी, गुंजन भारती पंचायत समिति सदस्य जीवछपुर,  ममता देवी पंचायत समिति सदस्य गम्हरिया.

दूसरी तरफ बैठक की बहिष्कार के बारे में जब प्रखंड प्रमुख शशि कुमार से इस बाबत जानकारी लिया गया तो उन्होंने बताया कि पंचायत समिति का गठन हो चुका है और बैठक की जहां तक बात है पूर्व के वीडियो के छुट्टी पर चले जाने के कारण बैठक 2 महीने पर नहीं किया गया. उसके बाद बाढ़ आ जाने के कारण बैठक नहीं हो सकी, जिसके कारण सभी पदाधिकारी गण को बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों में लगा दिया गया. उसके बाद गम्हरिया प्रखंड के प्रखंड विकास पदाधिकारी का स्थानांतरण हो जाने के कारण नए प्रखंड विकास पदाधिकारी का गम्हरिया में 3 महीने बाद अपना योगदान किया गया. उसके बाद शौचालय निर्माण कार्य को लेकर सभी पदाधिकारी व्यस्त हो गए मुख्यमंत्री के प्रोग्राम होने के कारण सभी पदाधिकारी गण नहीं रहने के कारण बैठक नहीं किया गया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...