27 अक्तूबर 2017

मधेपुरा: राम-रहीम और हनीप्रीत की प्रतिमा पर विवाद, प्रशासन को करना पड़ा हस्तक्षेप

लोक आस्था व सूर्योपासना का महापर्व छठ पूजा के अवसर पर मुख्यालय के पुरणधरनाथ मंदिर परिसर स्थित घाट में विभिन्न प्रकार के भगवान के प्रतिमाओं के बगल में स्थानीय लोगों द्वारा राम-रहीम और हनीप्रीत की भी प्रतिमा लगाई गई थी.  

गुरूवार की संध्या से ही उक्त घाट पर लोग खासकर राम-रहीम व हनीप्रीत की  की सेल्फी लेते प्रतिमा को देखकर प्रसन्न हो रहे थे एवं मूर्तिकार की तारीफ कर रहे थे। राम-रहीम व हनीप्रीत की प्रतिमा आकर्षण का केन्द्र बना हुआ था.

पर मामला तब बिगड़ने लगा जब कुछ लोगों ने भगवान के प्रतिमाओं के साथ ही राम-रहीम तथा हनीप्रीत के प्रतिमाओं की भी भूलवष पूजा कर दिया. जब इस तरफ अन्य लोगों का ध्यान गया तो कुछ युवकों ने इसका पुरजोर तरीके से विरोध किया। 

हालांकि प्रतिमा स्थापित करनेवाले लोगों की दलील था कि लोगों को हंसाने व व्यंग के नजरिये से राम-रहीम तथा हनीप्रीत की प्रतिमा को लगाया गया था।  जिसके बाद आयोजन करता, प्रतिमा स्थापितकर्ता और स्थानीय युवकों में कुछ देर तक कहासुनी होती रही. बाद में स्थानीय कुछ लोगों के कहने पर सीओ अशोक कुमार मंडल के आदेश पर राम-रहीम के प्रतिमा को मंदिर प्रांगण से हटाया गया।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...