16 जुलाई 2017

एम्बुलेंस बिना अस्पताल, शारीरिक, मानसिक और आर्थिक परेशानी से मरीज बेहाल

मधेपुरा जिले के शंकरपुर प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर बनाने के लिए बिहार सरकार कई तरह के पहल करने को तैयार है ।

लेकिन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के लापरवाही के कारण प्रखंड मुख्यालय के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र शंकरपुर में करीब ढाई-तीन माह से  एबुलेंस खराब पड़ा हुआ है।

जिस कारण स्वास्थ्य केन्द्र पहुचने वाले मरीजों को भारी परेशानी हो रही है। अधिकारी एम्बुलेंस ठीक कराने के नाम पर दिन को टालते जा रहे हैं. मालूम हो कि प्रखंड क्षेत्र में नौ पंचायत के इस प्रखंड में मात्र एक प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हैं। बताया गया कि जिसमें दो एबुलेंस हैं।  एक एबुलेंस विधायक कोष से कई वर्षों पहले मिला था जो मिलने के कुछ ही दिनों बाद से ही खराब होने के बाद पड़ा हुआ है.  दूसरा एम्बुलेंस प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र को उपलब्ध कराया गया था. जिससे गंभीर बीमारी वाले रोगियों को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाने और पहुंचाने का कार्य किया जा रहा था. पर यह भी स्वास्थ्य विभाग के लापरवाही का शिकार होकर ख़राब पड़ा हुआ है. जबकि प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में दो चार गंभीर रोगी का आना और जाना रोज  लगा रहता है। एबुलेंस सेवा बहाल नहीं रहने के कारण जहां रोगियों के परिजनों को आर्थिक शोषण का शिकार होना पड़ता  है. वहीं सवारी वाहन वाले अवैध भाड़ा वसूल करने से परहेज नहीं कर रहे हैं।

इलाके के लोगों ने प्रशासन से गुहार लगाईं है कि जल्द से जल्द यहाँ एम्बुलेंस सेवा पुनर्बहाल की जाय जिससे हम शारीरिक, मानसिक और आर्थिक परेशानी से बच सकें. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...