21 जनवरी 2017

घर का चिराग बुझा: सुपौल में मानव श्रंखला से लौट रहे एकलौते संतान की दर्दनाक मौत

सुपौल। मानव श्रृखंला में भाग लेकर गांव लौट रहे एक स्कूली छात्र की दर्दनाक मौत हो गयी। जबकि अन्य तीन स्कूली छात्र जख्मी हो गये।
जिसका ईलाज पीएचसी किशनुपर में चल रहा है।
जानकारी के अनुसार नशा मुक्त बिहार के समर्थन में रिकॉर्ड बनायी गयी मानव श्रृखंला में किशनपुर थाना क्षेत्र के उच्च वि़द्यालय तुलापट्टी के दर्जनों छात्र ट्रैक्टर  पर सवार होकर प्रखंड मुख्यालय किशनपुर पहुंचे थे।

मानव श्रृखंला के समाप्ति के बाद वे सभी स्कूली बच्चे ट्रैक्टर पर सवार होकर वापस गांव लौट रहे थे। इसी बीच बैरिया मोड़ के समीप चालक ने संतुलन खो दिया और ट्रैक्टर पलट गयी। जिसमें नौंवी कक्षा का छात्र सुंदर कुमार ट्रैक्टर के चक्के की चपेट में गया। जिसकी मौत घटना स्थल पर ही हो गयी।
चीख- पुकार की आवाज सुनकर स्थानीय ग्रामीणों ने जख्मी को ईलाज के लिए पीएचसी में भर्ती कराया।

मौके पर पहुंचे किशनपुर थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेजा है। जबकि चालक को हिरासत में लिया है।

बता दें कि सुखासन पंचायत के बरहथा गांव निवासी शत्रुघ्न शर्मा का एकलौता पुत्र सुंदर था। जिसके मौत के बाद ग्रामीणों की जुबान से एक ही बात निकल रही थी कि इस श्रृखंला ने एक घर के चिराग को सदा के लिए बुझा दिया।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...