06 जनवरी 2017

नोटबंदी के खिलाफ मधेपुरा में कॉंग्रेस पार्टी का धरना प्रदर्शन

नोट बंदी लेकर मधेपुरा जिला कॉंग्रेस के नेता और कार्यकर्ताओं ने मधेपुरा जिला समाहरणालय के पास किया धरना प्रदर्शन. प्रदर्शनकारी का कहना था कि मोदी जी से हम 5 सवाल पूछते हैं.
देश के लोगों ने सारा पैसा तो बैंक में जमा कर दिया अब बताइए कितना काला धन आया है? नोट के चलते देश को कितना आर्थिक नुकसान हुआ? नोट के चलते कितने लोगों ने जान गंवाई और आपने उनके परिवारों को मुआवजा क्यों नहीं दिया? ऐसा फैसला लेने से पहले आरबीआई अर्थ शास्त्रीय से सलाह क्यों नहीं लिया गया? नोट बंदी से पहले तक 25 लाख से अधिक रूपये बैंक में जमा करने वाले व्यक्ति और संस्था का नाम देश को बताएंगे ?
         मधेपुरा कॉंग्रेस पार्टी जिलाध्यक्ष सत्येन्द्र कुमार सिंह के नेतृत्व में प्रदर्शनकारियों ने कहा कि हमारी ये पांच मांगे हैं और हम ये भी मांग करते हैं कि जनता का पैसा वापस दो. 30 दिसंबर से ज्यादा दिन हो गए, किसानों को रबी फसल पर 20% बोनस दो ताकि नुकसान का भरपाई हो. कम से कम बीपीएल परिवार की एक महिला के खाते में 25,000 जमा करवाएं. मनरेगा मजदूर के काम के दिन मजदूरी दोगुनी की जाए, छोटे दुकानदारों एवं उद्योगों को इनकम टैक्स और सेल टैक्स में 50% की छूट दी जाए तथा सेल टैक्स छूट से प्रांतों होने वाले नुकसान का भुगतान मोदी सरकार करें.
   धरना प्रदर्शन में डॉ. अरूण कुमार, पारो बाबू समेत कई दर्जन नेता तथा कार्यकर्ता उपस्थित थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...