11 अक्तूबर 2016

मुहर्रम मनाने दिल्ली से आया था मधेपुरा, नहाते समय आ गई मौत

कहते हैं मृत्यु अंतिम सत्य है, पर कब और कहाँ होगी, कोई नहीं जानता. यदि मधेपुरा जिले के चौसा का मु. ख्वाजा को ये बात पता रहती कि दिल्ली से वो मुहर्रम मनाने मधेपुरा जा रहा है और वहीं उसकी मौत तय है, तो ख्वाजा इस बार कभी घर नहीं आता.
      चौसा प्रखंड अन्तर्गत पैना पंचायत के वार्ड नंबर 4 चंदा के रहने वाले 22 वर्षीय मु. खाजा की मौत आज पानी में डूब कर हो गई उस समय हो गई जब वह स्नान करने पास के नदी में गया था.  जाहिर है, मौत से एक तरफ परिवार का हाल अत्यंत बुरा है तो समाज के लोग भी मातम में हैं.  डूबने की जानकारी मिलने के बाद स्थानीय लोगो के प्रयास से ख्वाजा की लाश को जैसे नदी से बाहर निकला गया माँ ताशो खातून और पिता मु. जिब्राइल दहाड़ मार कर रोने लगे.
     घटना की सूचना मिलते ही चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह पहुँचे और लाश को पोस्टमार्टम के लिये मधेपुरा सदर अस्पताल भेज दिया गया है. कल मुहर्रम का उत्साह जिले भर में जरूर होगा, पर ख्वाजा के सम्बन्धियों के लिए इस बार का मुहर्रम मौत का पैगाम लेकर आया. 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...