15 जुलाई 2016

"करवटें बदल रहें सारी रात हम": बिजली के लिए हाहाकार

मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड में क्षेत्रीय सांसद, विधायक, त्रिस्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों तथा बिजली विभाग की उपेक्षा और उदासीनता के कारण बिजली के लिए हाहाकार मचा हुआ है. बावजूद इसके सरकारी अमला मौन है. सरकारी अधिकारी से ग्रामीणों की जब बात होती है तो सिर्फ आश्वासन मिलता है या फिर वे सूचना नहीं होने की बात कह देतें है.
     सनद रहे कि चौसा प्रखंडान्तर्गत ग्राम पंचायत चौसा पश्चिमी स्थित वार्ड संख्या  04 और 05 में बिजली विभाग द्वारा लगाया गया ट्रांसफरमर जल चुका है. विभागीय स्तर से जले ट्रांसफरमर को एक सप्ताह पूर्व ही वापस मंगा लिया गया है, किंतु आज तक नया ट्रांसफरमर नहीं लगाया जा सका है. लिहाजा आमलोगों में हाहाकार मचा हुआ है और छात्रों की पढाई पर भी प्रतिकूल असर पड रहा है. आमलोग भीषण गर्मी से बचने के लिए शाम होते ही हवा की खोज में सडकों पे निकल आते हैं और उनकी रातें जगते ही कटती है. सबसे बुरा हाल विद्यार्थियों का है, जिनकी पढ़ाई बिजली के अभाव में ठप्प पड़ी हुई है.
    गौरतलब है कि जले ट्रांसफरमर से करीब 300 उपभोक्ता संबद्ध हैं. 90 % उपभोक्ता नियमित रूप से बिजली बिल का भुगतान भी करते हैं, बावजूद उन्हें भीषण गर्मी में भी बिजली मयस्सर नहीं हो पा रहा है, जो यहाँ के लोगों के लिए सरकार की विफलता ही कही जायेगी.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...