07 अप्रैल 2018

‘अधिकांश मामलों में झगड़ा नहीं, रगड़ा होता है’: थाना परिसर में जनता दरबार आयोजित

भूमि विवाद के निपटारा करने के लिए आज मधेपुरा जिले के शंकरपुर थाना परिसर में जनता दरबार का आयोजन किया गया, जिसमें थाना क्षेत्र के विभिन्न गावों से कुल आठ मामले आए। 


काफी लंबे समय के बाद थाना में भूमि विवाद सुलझाने की योजना पुन: शुरू होने से लोगों में उम्मीद जगी है। जिलाधिकारी एवं एसपी के निर्देश पर भूमि विवादों से संबंधित मामलों के निष्पादन की प्रक्रिया शुरू की गई है। इसी कड़ी में शनिवार को जनता दरबार का आयोजन हुआ। जिसमें अंचलाधिकारी ज्ञान प्रकाश शेराफिम भी मौजूद थे। 

अंचलाधिकारी शेराफिम ने बताया कि भूमि विवाद से संबंधित अलग-अलग आठ मामले आए। जिसमें दो स्थल जांचकर नापी से संबंधित भूदान से संबंधित विवाद के अलावा जमीन पर जबरन दखल कब्जा करने के मामले आए और तीन मामले का निष्पादित कर दिया गया। पक्षकारों की समस्या जानी गई एवं आवेदन लिए गए। अलग-अलग जाच पड़ताल के बाद न्योचित कार्रवाई की गई। 

थानाध्यक्ष प्रसुंजय कुमार ने कहा आजकल अधिकतर जमीन विवाद को ही लेकर थाना में केस दर्ज होता है। जमीनी विवाद को लेकर अधिकांश मामलों में झगड़ा नही रगड़ा होता है। अभी भी ग्रामीणों में जागरूकता की कमी है। 

इस अवसर पर थानाध्यक्ष प्रसुंजय कुमार, अंचल अमीन प्रभात कुमार, जनप्रतिनिधियों सहित काफी संख्या में ग्रामीण भी मौजूद थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...