01 जनवरी 2018

मधेपुरा: उम्दा रहा सांस्कृतिक संस्था प्रांगन रंगमंच द्वारा प्रस्तुत अलविदा 2017 कार्यक्रम

नवनिर्मित सांस्कृतिक संस्था प्रांगन रंगमंच द्वारा रविवार को मधेपुरा जिला मुख्यालय के डीबी रोड स्थित बीपी मंडल नगर भवन टाउन हॉल में अलविदा 2017 कार्यक्रम का आयोजन किया गया.

सांस्कृतिक कार्यक्रम का उद्घाटन जिले में अपराध को नियंत्रण करने वाले कमांडो दस्ता की टीम, जयकांत यादव, प्रदीप कुमार झा, सुकेश राणा द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया. सांस्कृतिक कार्यक्रम के उद्घाटन के बाद संतोष यादव द्वारा आए हुए अतिथियों के स्वागत में का स्वागत गीत प्रस्तुत किया गया. उसके बाद दरभंगा से आए हुए टीम द्वारा उज्जवल राज के निर्देशन में मैन बिहाइंड ए शैडो का प्रकाश राणा द्वारा एकल अभिनय किया गया. उसके बाद वकील वाका के निर्देशन में कला मंदिर के बच्चों ने रिकॉर्डिंग डांस की प्रस्तुति दी. लीजा मान्या, शुभांगी आनंद, वर्षा अग्रवाल ने भी मनमोहक रिकॉर्डिंग डांस की प्रस्तुति दी. 
तत्पश्चात कला संस्कृति को आगे बढ़ाने के लिए गठित सांस्कृतिक संगठन प्रांगण रंगमंच के द्वारा मिथुन कुमार गुप्ता के निर्देशन में सैंया भइल कोतवाल नाटक का मंचन किया गया. जिसमें अमित आनंद, आशीष सत्यार्थी, बमबम कुमार, सुमन कुमार, प्रीति कुमारी, रामविलास कुमार, नवीन कुमार ने जीवंत अभिनय कर लोगों के दिलों में अपनी जगह बना ली. उसके बाद अमरजीत एंड हैप्पी ग्रुपखुशी, रिया, अनोखी, साक्षी सिंह, आतिफ आदि ने रिकॉर्डिंग डांस की प्रस्तुति दी. होली क्रॉस के बच्चों द्वारा गायन प्रस्तुति भी हुई. शिवाली एवं चंदा रानी ने भी अपनी गायकी की प्रस्तुति देकर दर्शकों को मंत्रमुग्ध किया. श्रवण सम्राट के द्वारा गाए हुए गजल को दर्शकों ने खूब सराहा. वहीं छपरा से आए हुई मोहित पांडे ने "दमा दम मस्त कलंदर अली दा पहला नंबर" गीत गाकर टाउन हॉल में मौजूद सभी दर्शकों को झूमने पर मजबूर कर दिया. 

इससे पहले कार्यक्रम के मध्य में संस्था के संरक्षकों, पदाधिकारियोंसदस्यों एवं अतिथियों द्वारा पर्दा खींच कर संस्था का शुभारंभ किया गया. वहीं अतिथियों ने कहा कि रंगमंच केवल मनोरंजन का जरिया हीं नहीं है बल्कि यह अनुशासन का भंडार है. कला हमें जीवन की शैली सीखाती है. एक कलाकार का कर्तव्य है कि वह अपनी कला को प्रदर्शित करने में अपनी पूरी क्षमता लगाएं. आज के समय में थियेटर का स्वरुप बदलता जा रहा है मगर यह काफी खुशी की बात है कि मधेपुरा के नवयुवक रंगमंच से जुड़े हुए हैं और इस धरोहर को बचाने के लिए संघर्षरत है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...