22 अगस्त 2017

‘बॉयोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में छात्रों के लिए अपार संभावनाएं’: कुलपति

दिनचर्या से जुड़ी बॉयोटेक्नोलॉजी के क्षेत्र में छात्रों के लिए अपार संभावनाएं  हैं । यह लोककल्याण से जुड़ा है। इसकी प्रासंगिकता दिन-प्रतिदिन बढती जा रही है। यह बात बी. एन. मंडल विश्वविद्यालय के  कुलपति प्रो. अवध किशोर राय ने कही। 

वे मंगलवार को टी. पी. कॉलेज में 'बायोटेक्नोलॉजी की प्रासंगिकता' विषयक सेमिनार में बोल रहे थे। उन्होंने कहा कि बायोटेक्नोलॉजी एक मल्टी टाइप कोर्स है। इसके साथ कई विषय जुड़े हुए हैं।

कुलपति ने इस अवसर पर कहा कि इस विश्वविद्यालय में स्नातकोत्तर स्तर पर बॉयोटेक्नोलॉजी की पढ़ाई भी जल्द शुरू करने की दिशा में प्रयास जारी है। उन्होंने कहा कि समेकित सहयोग से ही विवि का विकास हो सकता है। सेमिनार में मुख्य रूप से बताया गया कि बॉयोटेक्नोलॉजी के द्वारा समाज  को कितना अधिक लाभ पहुंचाया जा सकता है। उपस्थित सभी अतिथियों ने इस विषय पर अपने अपने उदगार व्यक्त किए। मुख्य अतिथि  पूर्व कुलपति प्रोफेसर डॉ. अंजनी कुमार सिन्हा ने कहा कि विश्वविद्यालय में शैक्षणिक माहौल बना है और इसके लिये कुलपति ने सराहनीय क़दम उठाये हैं ।

 कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए प्रधानाचार्य प्रोफेसर डॉ. एच. एल. एस. जौहरी ने कहा कि आगे भी ऐसे कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा। हमारी मंशा है कि कुलपति के भावना के अनुकूल यह एक आदर्श विश्वविद्यालय के रुप में स्थापित हो सके ।

 इस अवसर पर डॉ. उदय कृष्ण, डॉ. अमोल कुमार राय, डॉ. जवाहर पासवान, डॉ. कपिलदेव प्रसाद, डॉ. राजीव रंजन, डॉ. शिवशंकर कुमार, डॉ. ए. के. मल्लिक, डॉ. रतनदीप, डॉ. वीणा कुमारी, विजया, हर्षवर्धन सिंह राठौर, रंजन यादव सहित दर्जनों शिक्षक एवं छात्र-छात्राएं उपस्थित थे.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...