22 मई 2017

मधेपुरा में चिकित्सक पर हत्या का मामला दर्ज, सड़क जाम कर गिरफ्तारी की मांग

शहर में क्लिनिक चला रहे भागलपुर मेडिकल कालेज में पदस्थापित एक हड्डी रोग विशेषज्ञ चिकित्सक के विरुद्ध सदर थाने में हत्या का आरोप लगाकर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार रविवार को भदौल निवासी नौ वर्षीय बालक को उसके अभिभावक हाथ टूटने के कारण इलाज कराने आए थे। डॉ सचिन ने ऑपरेशन कराने को कहा। 30 हजार फीस लेकर ऑपरेशन किया गया लेकिन बालक अभिषेक को होश नहीं आया। परिजनों की शिकायत थी कि बिना मूरछक चिकित्सक (एनेस्थीसिया डॉक्टर) के उसे बेहोशी की दवा दी गई थी और इसे गड़बड़ी के कारण उसकी मौत हो गई। बाद में मृतक के परिजनों ने क्लिनिक में हो हल्ला मचाया तो पुलिस ने बच्चे का पोस्टमॉर्टम कराया और फिर प्राथमिकी दर्ज की गई।

प्राथमिकी में मृतक के पिता मिथुन कुमार ने आरोप लगाया है कि उनके पुत्र अभिषेक को अधिक ईथर देकर डॉ सचिन कुमार और सहायक सरोज कुमार ने मार दिया। घटना के बाद क्लिनिक बंद कर सभी गायब हो गए।

पीड़ित परिजनों ने सोमवार को लाश लेकर भिरखी पुल के पास सड़क जाम कर उक्त चिकित्सक की गिरफ्तारी, क्लिनिक को सील करने और मुआवजे की मांग की। दो घंटे के बाद सादर थाना पुलिस ने समझा बुझा कर सड़क जाम हटवाया ।

खबर से सम्बंधित वीडियो देखने के लिए यहाँ क्लिक करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...