11 अप्रैल 2017

मधेपुरा: पटरी पर रख दी गर्दन, गुजरती ट्रेन ने रौंदा

मानसिक रूप से बीमार व्यक्ति कब क्या कर बैठे कहना मुश्किल है. मधेपुरा जिले में एक व्यक्ति ने गुजरती ट्रेन के सामने पटरी पर गर्दन रखकर खुद की इहलीला समाप्त कर ली.

    मिली जानकारी के अनुसार आज मंगलवार सुबह  मुरलीगंज रेलवे स्टेशन से विलम्ब से गुजर रही कोसी एक्सप्रेस, जो सहरसा से खुलकर बनमनखी की ओर जा रही थी , सुबह के  चार बजे  करीब एक प्लेटफार्म नंबर एक पर 70  वर्षीय एक बुजुर्ग व्यक्ति ने गुजर रही ट्रेन की पटरी पर आत्महत्या करने के उद्देश्य से आपनी गर्दन रख दिया । ट्रेन जब गुजर चुकी तो कोसी एक्सप्रेस ट्रेन को पकड़ने के लिए मुरलीगंज स्टेशन पर जमा यात्री की भीड़ ने एक व्यक्ति  के कट जाने की सूचना ड्यूटी पर तैनात स्टेशन मास्टर मनोज कुमार को दी। स्टेशन मास्टर द्वारा यह सूचना बनमनखी रेल थाने को भेजी गई । कुछ समय  समय तक इसे अज्ञात माना जा रहा था, पर कुछ घंटों बाद मुरलीगंज बिहारीगंज एस एच  91  के किनारे बसे फुलो सिंह  पिता जामुन सिंह के रूप इसकी पहचान हुई.  परिजन स्टेशन पहुंच कर  मृतक के शव को लेने के लिए पहुंच गए पर  मुरलीगंज  स्टेशन पर तैनात ए एस आई शंकर प्रसाद रजक ने मृतक की पहचान करने के बाद बनमनखी रेल पुलिस  के आने के बाद शव देने की बात कही।       
     बनमनखी रेल पुलिस  ए एस आई सुभाष पासवान के पहुंचने पर मृतक के परिजनों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से फूलों  सिंह मानसिक रूप से बीमार चल रहे थे. इनके घर में कोई नहीं है. उनकी पत्नी एवं बच्चों का बहुत पहले ही देहांत हो चुका है. इसलिए उनके भतीजे एवं अन्य  रिश्तेदारों ने शव मांग की. कानूनी प्रक्रिया पूर्ण होने के बाद रिश्तेदार रणजीत कुमार सिंह को सुरेश पासवान थानाध्यक्ष बनमनखी  द्वारा उनके परिजनों को सौंप दिया गया.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...