25 फ़रवरी 2017

नशाबंदी में महाशिवरात्रि के मौके पर मधेपुरा में भाँग से बने पकौड़े का लंगर

बिहार में भले ही सूबे मुखिया नीतीश कुमार शराब बंदी और पूर्ण रूपेण नशाबंदी लागू मान रहे हैं, लेकिन मधेपुरा में भगवान् भोले शंकर के नाम पर महाशिवरात्रि के मौके पर भाँग से बने पकौड़े और सूजी का हलवा खिलाने का लंगर जरुर चल रहा है.

    पिछले कई वर्षों से शिवरात्रि के मौके पर किया जाता है भाँग से बने पकौड़े और सूजी का हलवा लंगर की व्यवस्था. शिव भक्तों को खिलाया जाता है भांग से बने पकौड़े और सूजी का हलुवा. शिव भक्तों की माने तो दरसल एक महिला का स्वास्थ्य हमेशा से खराब रहता था. जिसके बाद परिजनों के द्वारा बाबा भोले से स्वास्थ्य ठीक होने की मांगी गई मन्नते हुई पूरी. इसी आस्था और विश्वास को लेकर लगातार कई वर्षों से अपने घर पर लंगर लगाकर खिलाते हैं जिसमें बाबा भोले के भक्तों को भांग से बने पकौड़े और सूजी का हलवा रहता है.
     बता दें कि मधेपुरा जिला मुख्यालय में वर्षों से चला आ रहा यह आयोजन खासकर आस्था और विश्वास से जुड़ा है. स्वास्थ्य ख़राब रहने पर बाबा से मन्नते मांगी गयी तब से इस जमुना देवी नाम की महिला का स्वास्थ्य ठीक रहने लगा. तभी से इस कार्यक्रम का आयोजन महाशिवरात्रि के मौके पर किया जाता है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...