21 फ़रवरी 2017

मुंद्रिका ट्रेवल्स ने इस बार बच्ची को कुचला, मौत: गुस्साए लोगों ने बस को गड्ढे में धकेला

मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज थाना क्षेत्र के हरैली गांव में हनुमान मंदिर के पास एनएच 106 पर आज मंगलवार के दिन मुंद्रिका ट्रेवेल्स पैसेंजर बस ने सात वर्षीय बच्ची को कुचल दिया, जिससे बच्ची की मौत हो गई.

   छोटी कुमारी (7 वर्ष) नाम की बच्ची की मौत मौके पर ही हो गई. मृतका बच्ची हरैली गांव के ही सुशील यादव की पुत्री थी. घटना के बाद लोग आक्रोशित हो गए और दुर्घटनास्थल एनएच जाम कर दिया. बताते हैं कि दुर्घटना के बाद बच्ची को कुचलकर भाग रहे बस को लोगों ने तीन किलोमीटर दूर तक पीछा उदा गांव के पास पकड़ लिया. लोगों का गुस्सा इतना था कि उन्होंने बस को सड़क पर से नीचे गढ्ढे में धकेल कर गिरा दिया और लाठी डंडे से बस को क्षतिग्रस्त कर दिया. लोगो ने बस में आग लगाने की कोशिश की, लेकिन कुछ लोगों ने बीच-बचाव कर उन्हें ऐसा करने से रोका.
    इस बीच बस का ड्राइवर और खलासी भाग निकले. स्थानीय लोगों ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि हरैली गांव के एनएच 106 किनारे हनुमान मंदिर पर हर मंगलवार को श्रद्धालुओं की भीड़ रहती है. यहीं पूजा देखने गांव के अन्य बच्चों के साथ छोटी भी पहुंची थी जहाँ सडक किनारे खड़ी छोटी को बस कुचलते निकल गई. जाम की वजह से इंटर परीक्षार्थियो को भी भारी परेशानी का सामना करना पड़ा और पुलिस को भी लोगों का प्रतिरोध झेलना पड़ा. जाम के कारण वाहन की लंबी कतार लग गई पर थानाध्यक्ष केबी सिंह, पूर्व मुखिया लाल यादव, विनोद कुमार मुन्ना आदि के प्रयास से चार घंटे बाद जाम हटा.
    बता दें कि मुंद्रिका ट्रेवल्स की बस समेत खासकर अन्य बस और ट्रक आये दिन कोसी के इलाके में लापरवाही दिखाते हुए दुर्घटना को अंजाम देते रहती है, पर इस मामले में भारतीय कानून की कमजोरी का लाभ लापरवाह वाहन चालकों को मिलता रहता है. बता दें कि वाहन से दुर्घटना में किसी की जान भी यदि चली जाती है तो लागू भारतीय दंड संहिता की धारा 304 A जमानतीय होने के कारण चालक को थाने से ही जमानत मिल जाती है.
(रिपोर्ट: कुमारी मंजू)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...