22 जनवरी 2017

मधेपुरा के घैलाढ़ में एतिहासिक रहा दिन, समाप्ति पर भगदड़ में 5 चोटिल

मधेपुरा जिले के घैलाढ़ प्रखंड में शनिवार का दिन बिहार, मधेपुरा और घैलाढ़ के लिए ऐतिहासिक दिन बन गया जब बच्चे, जवान, बूढ़े, पुरुष और महिलाएं शराबबंदी के समर्थन में मानव श्रृंखला के रूप में सड़कों पर उतर आए.

 मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम में उम्मीद से अधिक करीब 42000 हजार लोग शामिल हुए प्रखंड में करीब 10.5 कि0 मी0 लंबी श्रृंखला में घैलाढ़ 2 प्रखंडों को एक सूत्र में बांधा, जिसमें गम्हरिया के सटे घैलाढ़ का विश्वकर्मा चौक से लेकर इटहरी मुख्य चौराहे से शामिल होकर भान टेकठि पंचायत होते हुए मधेपुरा जिला के मिठाई  मुख्य मार्ग पर मानव श्रृंखला का करी जोड़ा गया.

 मानव श्रृंखला में ना सिर्फ आम आदमी की ही नहीं बल्कि प्रशासन की भी जबरदस्त मुस्तैदी रही. अंचलाधिकारी सतीश कुमार थाना अध्यक्ष संजीव कुमार एवं परमानंदपुर थाना ओपी अध्यक्ष रणवीर कुमार रावत प्रखंड विकास पदाधिकारी आशा कुमारी एवं बाल विकास परियोजना पदाधिकारी स्वेता कुमारी सहित अन्य आला अधिकारी एवं पंचायत के सभी प्रतिनिधि पूरे प्रखंड का भ्रमण करते रहे.
 मानव श्रृंखला की समाप्ति पर जाने को भगदड़ मच गई. हालांकि पुलिस की मुस्तैदी ने उसे नियंत्रित कर लिया और करीब 3 घंटों से सड़कों पर कतारबद्ध लोगों को थाना अध्यक्ष संजीव कुमार अपने पुलिस बल के सहायता से गाड़ी तक पहुंचाने का काम करते रहे.

 5 हुए चोटिल : इसी दौरान घैलाढ़ चौक से पश्चिम श्रीनगर पंचायत के पंचायत सरकार भवन के समीप मानव श्रृंखला को सफल बना कर लौट रहे एक ही मोटर गाड़ी पर 4 स्कूली बच्चे सवार मुख्य मार्ग के बीच साइकिल सवार देव नारायण यादव को ठोकर मार गिर पड़े और वहीँ बेहोश हो गए जिसमें 4 स्कूली बच्चे शामिल है. सभी घायलों का इलाज प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र घैलाढ़ में किया गया. घायलों के नाम कल्पना कुमारी 14 वर्ष, रूबी कुमारी 14 वर्षीय, अंजली कुमारी 15 वर्ष, मणि भूषण कुमार 15 वर्ष, देव नारायण यादव 50 वर्ष का इलाज किया गया. उधर डॉक्टर इंदु कुमारी ने बताया कि मरीज खतरे से बाहर है वही इलाज कर सभी को एंबुलेंस द्वारा घर सुरक्षित पहुंचाया गया.
(रिपोर्ट: लालेंद्र कुमार)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...