08 जनवरी 2017

बढ़ते भ्रष्टाचार और अपराध के खिलाफ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन

राज्य में बढ़ते भ्रष्टाचार और अपराध के ग्राफ एवं अपराधियों के तांडव के खिलाफ रविवार को स्थानीय कॉलेज चौक पर युवा राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के दर्जनों कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला दहन कर अपना विरोध प्रकट किया।
      इस मौके पर जिला संयोजक डीके कुमार ने कहा कि बिहार में खुले आम पत्रकारों की हत्या, लूट, बलात्कार एवं डकैती की घटना आम बात हो गई है जिस कारण आम आदमी में एक भय का माहौल पैदा ले लिया है, लोग अपने घरों से निकलने से भी घबराने लगे हैं। डीके कुमार ने बिहार में बढ़ते ग्राफ के जिम्मेदार महागठबंधन की सरकार को ठहराते हुए कहा कि जब से बिहार में महागठबंधन की सरकार बनी है तब से ही राज्य में आपराधिक घटनाओं में बढ़ोतरी हुई है। वही एक तरफ मुख्यमंत्री जी शराबबंदी के फायदे दिखा रहे हैं तो दूसरी तरफ राज्य के सभी जिलों में शराब अब भी मिल रही है। जिलाध्यक्ष रविशंकर कुमार और छात्र जिला अध्यक्ष गणेश कुमार गोलू ने कहा कि गरीबों के लिए जो चावल और गेहूं आती है वह ब्लॉक स्तर तक ही लुप्त हो जाती है और स्वच्छता के तहत पंचायतों में 12000 की जो राशि आती है उसमे से दो हजार रूपये मुखिया के जेब में चली जाती है। इस मसले पर जिलाधिकारी को ध्यान देने की जरुरत है।
     विवि अध्यक्ष अभिषेक कुशवाहा ने कहा कि विश्वविद्यालय द्वारा समय पर रिजल्ट नहीं देने से छात्र/छात्राओं को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। युवा नेताओं ने कहा कि अगर इस सभी मसले पर ध्यान नहीं दिया गया तो 12 जनवरी को युवा प्रदेश अध्यक्ष के नेतृत्व में मधेपुरा के सेकड़ों कार्यकर्ताओं द्वारा राजभवन मार्च किया जायेगा।
    पुतला दहन में सनातन यादव, सुमन कुमार, अंकुश यादव, बिट्टू कुशवाहा, सौरभ यादव, मंगल मेहता, छोटू यादव, दीपक कुमार आदि कार्यकर्त्ता शामिल थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...