10 दिसंबर 2016

‘जीविका दीदी पर रोक नहीं लगी तो मुख्यमंत्री का घेराव करेंगे शिक्षक'

मधेपुरा जिले के बिहारीगंज प्रखंड कार्यालय परिसर में बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के बैनर तले एक दिवसीय धरना आयोजित किया गया.
धरना को संबोधित करते हुए संघ के जिलाध्यक्ष संजय कुमार ने कहा कि राज्य सरकार जीविका दीदी के हवाले शिक्षा व्यवस्था को कर शिक्षा को दफनाने पर तुली है. जिसे खुद सही से गिनती नहीं आती उसे निरीक्षी पदाधिकारी बना दिया गया है, जो विद्यालय जाकर शिक्षा शिक्षकों का मखौल बना रही है. जिला सचिव भुवन कुमार ने कहा कि सरकार जीविका दीदी द्वारा शिक्षा को सुदृढ़ करना चहाती है, तो सारे पदाधिकरी को हटाकर उसके स्थान पर उसे ही बिठा दिया जाए. जिला उपाध्यक्ष जयकुमार एवं जिला कोषाध्यक्ष विनोद राम ने कहा कि सरकार को चाहिए को जीविका दीदी को ही विद्यालय में पदस्थापित कर दे ताकि गुणवत्तापूर्ण शिक्षा का सपना साकार हो सके. संघ के नेताओं ने कहा कि बेलाही के शिक्षकों पर दर्ज फर्जी मुकदमा वापस नहीं हुआ तो प्रखंड की शिक्षा व्यवस्था को ठप किया जाएगा. साथ ही जीविका दीदी पर रोक नहीं लगी तो मुख्यमंत्री का घेराव किया जाएगा.
     संघ की ओर से एक  शिष्टमंडल बिहारीगंज के प्रखंड विकास पदाधिकारी से मिलकर उन्हें  छः सूत्री मांगो का एक ज्ञापन भी सौंपा गया, जिसमें जीविका दीदी से शिक्षा शिक्षकों को मुक्त करने, फर्जी मुकदमा वापस लेने, घटना की न्यायिक जांच कराने, दोषी जीविका दीदी को गिरफ्तार करने, स्थानीय राजनीतिक के शिकार हो रहे शिक्षकों की बात पर ध्यान देने आदि शामिल हैं. धरना में प्रखंड अध्यक्ष मुकेश कुमार, चन्द्रशेखर, सुनील कुमार, विजय कुमार, पुष्पा कुमारी, अखिलेश कुमार, भूपेन्द्र यादव, सुबोध कुमार, सामंत कुमार, राकेश सिंह, अजीत कुमार, टनटन कुमार रजक, शेखर कुमार, प्रवीण कुमार सिन्हा मुरलीधर पासवान,रामनारायण मंडल, रविशंकर रवि समेत अन्य शिक्षक शिक्षिका उपस्थित थी. धरना की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष रविशंकर रवि की अध्यक्षता में संपन्न हुआ.
(रिपोर्ट: रानी देवी)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...