16 नवंबर 2016

बहन की शादी का निमंत्रण देने जा रहा था: ट्रक ने कुचला, शिक्षक समेत दो की मौत

हर माँ-बाप अपने बच्चों का नाम कुछ सोचकर रखते हैं ताकि बच्चा किस्मतवाला हो, पर एक माँ का सपना आज टूट कर बिखर गया जब ‘लक्की’ नाम के बेटे की दुर्घटना में मौत हो गई.
मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड के पैना पंचायत के वार्ड न0 12 निवासी संवाददाता इम्तियाज अहमद फिरदोसी उर्फ़ लक्की (35 वर्ष) एवं पुरैनी थाना सपरदह निवासी नियाज आलम (25 वर्ष) पिता मिस्टर डिलर की आज दोपहर बैजनाथपुर के पास सड़क दुर्घटना में मौत हो गई।
मालूम हो कि चौसा प्रखंड के पैना निवासी इम्तियाज अहमद फिरदोसी अपने एक रिस्तेदार नियाज आलम के साथ अपनी बहन की शादी का निमंत्रण देने सहरसा जा रहा था. इसी दौरान बैजनाथपुर के पास  विपरित दिशा एक तेज गति से आ रही 10 चक्का ट्रक ने इन्हें सामने से टक्कर मार दी जिससे घटना स्थल पर ही दोनों की मौत हो गई. इम्तियाज अहमद फिरदोसी चौसा प्रखंड के चिरौरी मध्य विद्यालय में शिक्षक पद पर कार्यरत थे. बहन की शादी इसी माह 22 तारीख को थी. बताया गया कि इम्तियाज के पिता की मौत भी सात साल पहले ही हो चुकी थी और माँ, भाई और तीन बहनें शिक्षिका हैं. वही नियाज आलम की 3 महीने पहले शादी हुई थी. दोनों घरों में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...