13 नवंबर 2016

सासाराम में पत्रकार की हत्या के विरोध में मधेपुरा में प्रदर्शन



मधेपुरा आईरा की जिला इकाई ने सासाराम में हुए दैनिक भास्कर के पत्रकार को सरेआम गोली मारने की घटना को लेकर समाहरणालय स्थित गांधी जी के प्रतिमा स्थल पर सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.
मौके पर विरोध दर्ज करते हुए सभी पत्रकार ने आज काला लगा कर समाचार संकलन करने का फैसला किया. वही यहां पत्रकारों का आक्रोश देखते ही बनता था. हिन्दुस्तान के प्रभारी अमिताभ  कुमार ने कहा मात्र मई माह से अब तक बिहार के विभिन्न जिलों में राजदेव रंजन सहित 4 पत्रकारों की हत्या कर दी गई. उन्होंने कहा एक दर्जन से अधिक पत्रकारों पर जानलेवा हमला भी हुऐ, इसके अलावे कई पत्रकार नित्य नई धमकियों के बीच अपने दायित्व को निभा रहे हैं. दैनिक जागरण के प्रभारी धर्मेंद्र भारद्वाज ने कहा कि सरकार के द्वारा की गई अब तक की कार्रवाई से पत्रकार संतुष्ट नहीं है. आईरा के महासचिव डा. आई. सी. भगत ने कहा कि सरकार लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पर हो रहे हमले को रोकने के लिए समुचित कदम नही उठा रही है.  उन्होंने सवालिया लहजे में पूछा कि क्या इतने कम समय के अंतराल में अगर सूबे के चार डीएम, एसपी या कोई अन्य प्रशासनिक अधिकारियों, चार न्यायिक पदाधिकारी या चार मंत्री, सांसद और विधायक की हत्या हो जाती या उन पर जानलेवा हमले हुए होते तो क्या सरकार इसी तरह कार्रवाई के नाम पर खानापूर्ति करती रहती? आईरा के जिलाध्यक्ष रजनीश सिंह ने कहा कि आज लोकतंत्र का चौथा स्तंभ खतरे में है तो अन्य तीन स्तंभों का भविष्य भी सुरक्षित नहीं रह सकेगा. इसलिए लोकतंत्र की रक्षा के लिए इस चौथे स्तंभ की सुरक्षा बहुत जरूरी है. वहीँ मधेपुरा के पत्रकारों ने सर्वसम्मति से  मांग की है कि पत्रकारो के साथ होने वाले किसी भी तरह के अपराध में शामिल दोषियों की अविलंब गिरफ्तारी हो और उन पर स्पीडी ट्रायल चला कर कठोर सजा देने का प्रावधान किया जाय ताकि पत्रकारों की सुरक्षा सुनिश्चित हो सके.
    बाद में पत्रकारों के एक प्रतिनिधि दल ने मधेपुरा के डीएम से मिलकर विज्ञप्ति सौंपा और उनकी आवाज सरकार तक पहुंचाने का अनुरोध किया. मधेपुरा के जिलाधिकारी मो० सोहैल ने पत्रकारों को भरोसा दिलाया कि उनकी बात मुख्यमंत्री तक पहुंचाई जायेगी और उनकी सुरक्षा के लिए वे हरसंभव सहयोग करने को तैयार हैं.
     मौके पर अन्य कई मीडिया हाउस से जुड़े पत्रकारों के अलावे भाकपा राज्य कार्यकारिणी सदस्य प्रमोद प्रभाकर भी मौजूद थे.
(Report: Dr. I. C. Bhagat, Sub-Editor)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...