07 नवंबर 2016

उदीयमान भगवान् भास्कर को अर्घ्य के साथ महापर्व का समापन

‘अल्टीमेट सोर्स ऑफ एनर्जी’ यानि भगवान् सूर्य के आज उदय होते ही जिले में छठ व्रतियों और श्रद्धालुओं ने सूर्य को अर्ध्यदान दिया और इसके साथ ही जिले और सूबे में आस्था के सबसे महान पर्व का आज समापन हो गया.

      चार दिनों तक चलने वाले बिहार में लोक आस्था के सबसे बड़े पर्व का आज चौथा और अंतिम दिन था. इससे पूर्व नहाय-खाय और खरना के बाद कल संध्यां का अर्ध्य श्रद्धालुओं ने विभिन्न घाटों पर पानी के खड़े रहकर दिया. आज अहले सुबह से ही श्रद्धालु विभिन्न घाटों पर जमा होने लगे थे.
        छठ व्रतियों और श्रद्धालुओं ने पानी में घंटों खड़े रहकर सूर्य की उपासना की. घाट पर डालों तथा सूपों को बड़े ही ढंग से सजाया गया था. पूरा वातावरण जलाये गए दीयों से रौशन था. भगवान् सूर्य के दर्शन होते ही पुरुष और महिला श्रद्धालुओं की बड़ी भीड़ ने छठ मईया को नमन करते हुए अर्ध्य दिया.
           इस दौरान आज सुबह भी प्रशासन और पुलिस मुस्तैद रही. मधेपुरा जिला मुख्यालय के सबसे प्रमुख भिरखी घाट पर कल और आज भी जहाँ मधेपुरा के जिलाधिकारी मो. सोहैल और पुलिस अधीक्षक विकासकुमार के अलावे मधेपुरा सदर एसडीओ संजय कुमार निराला, एएसपी राजेश कुमार, थानाध्यक्ष मनीष कुमार और अंचलाधिकारी मिथिलेश कुमार खुद समापन तक मौजूद रहे वहीँ पर्व के दौरान मोटरवोट और गोताखोर नदी में घूमते रहे. सदर एसडीओ संजय कुमार निराला, एएसपी राजेश कुमार और अंचलाधिकारी मिथिलेश कुमार भी मोटरबोट से घाटों का निरीक्षण करते देखे गए. घाटों पर महिला थानाध्यक्ष प्रमिला भी महिला पुलिस के साथ ड्यूटी पर तैनात थी. छठ के दौरान जिले के चौसा थानाक्षेत्र के अजगैबा में एक युवक के डूबने की सूचना मिली है.
(MT Team)


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...