17 सितंबर 2016

“...पूरे पचास हजार’: कुख्यात अपराधी संतोष महेता पर 50 हजार की इनाम की राशि घोषित

सुपौल। कटिहार जिले के बहुचर्चित अपहरण कांड के आरोपी संतोष महेता उर्फ छोटका पर सुपौल पुलिस ने 50 हजार रूपये की इनामी राशि घोषित किया है.
    बताया गया कि जिन लोगों द्वारा अपराधी संतोष की सूचना दी जायेगी, उसका नाम गुप्त रखे जायेंगे. गिरफ्तारी के पुष्टि के बाद उन्हें घोषित राशि प्रदान की जायेगी. वहीं किसी पुलिस पदाधिकारी द्वारा उसे गिरफ्तार किया जाता है तो इनाम की राशि उक्त पुलिस पदाधिकारी को दी जायेगी.

अपहरण कांड से हुआ चर्चित: इसी वर्ष कटिहार जिले के कोढा से एक बड़े व्यवसायी की पुत्री 'स्पर्श' के अपहरण कांड में इस अपराधी का नाम सरगना के रूप में उभर कर सामने आया था. हालांकि कई थानों के पुलिस के सक्रियता के कारण नेपाल से बच्ची की सकुशल बरामदगी कर ली गयी थी, लेकिन इसकी गिरफ्तारी नहीं हुई थी.

कई थानों के पुलिस के लिए बना है चुनौती: कोसी,सीमांचल सहित नेपाल पुलिस के लिए इसकी गिरफ्तारी चुनौती बना हुआ है. पुलिस सूत्रों के अनुसार इस पर सुपौल ,मधेपुरा, अररिया, कटिहार व पूर्णिया के विभिन्न थानों में एक दर्जन से अधिक संगीन आपराधिक मामले दर्ज है, वहीं नेपाल पुलिस को भी इसकी तलाश लंबे समय से है.

 एक दशक पूर्व अपराध की दुनिया में रखा कदम: बताया जाता है कि एक दशक पूर्व कोसी का आंतक विनोद भिंडवार के अंगरक्षक के रूप में इसने अपराध की दुनिया में कदम रखा. वर्ष 2012 में जिले के करजाईन थाना क्षेत्र से एक डकैती कांड में उसे गिरफ्तार कर वीरपुर जेल भेज दिया गया. तत्कालीन थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह ने संतोष पर सीसीए लगाने की भी मांग सरकार से की थी.
     पर मधेपुरा टाइम्स सूत्रों के मुताबिक़ जमानत मिलने के बाद जिले के वीरपुर थाना क्षेत्र के भवानीपुर पंचायत के सीतापुर गांव निवासी संतोष संगठित अपराध गिरोह का संचालन कर रहा है. जिसका नेटवर्क नेपाल तक फैला हुआ है.
      हाल के दिनों में सिमराही बाजार के तीन व्यवसायी से रंगदारी की मांग के बाद यह अपराधी पुलिस के लिए सिर दर्द बना हुआ है.
     सुपौल एसपी डॉ. कुमार एकले ने बताया कि अपराधी संतोष मेहता पर 50  हजार इनाम की राशि घोषित किया गया है.    (वि.सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...