08 अगस्त 2016

सावन की तीसरी सोमवारी: डेढ़ लाख श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक

सावन की तीसरी सोमवारी को मधेपुरा के सिंहेश्वर में भगवान आषुतोश को डेढ़ लाख श्रद्धालुओं ने किया जलाभिषेक. मंदिर में जल चढाने के लिये श्रद्धालुओं का तांता पूरी रात मंदिर परिसर में लगता रहा.
     भारी भीड़ को देखते हुए मंदिर प्रशासन सुबह 2.15 बजे ही बाबा सिंहेश्वर नाथ के गर्भगृह का पट खोलने का निर्णय लिया. भगवान शिव शंकर को जल चढाने वाले भक्तों की उमड़ी भीड़ को सम्हालने के लिये आज युवक संध के स्वयं सेवकों के साथ साथ प्रशासन भी पूरी तरह मुस्तैद नजर आ रही थी. हर हर महादेव, बम बम महादेव और बोल बम का नारा है, बाबा एक सहारा है की गूँज से ऐसा लग रहा था कि पूरा सिंहेश्वर मंदिर भक्ति के सागर में डुबकी लगा रहा है.
    वहीँ शिवगंगा में स्नान कर दंड प्रणामी देने वालो की भी लंम्बी कतार खत्म होने का नाम नहीं ले रहा था. श्रद्धालुओं में खास कर डाक बम और दंडप्रणामी देने वालों की भीड लगातार बढ़ती ही रही. साथ दूर दराज ख़ास कर बाबा सिंहेश्वर नाथ की पूजा अर्चना के लिये नेपाल से काफी संख्या में श्रद्धालु आते हैं. रविवार से आये शिव भक्तों ने आधी रात से ही जलाभिषेक के कतार मे खडे हो गये थे.
     मंदिर परिसर मे प्रशासनिक व्यवस्था के दुरुस्त रहने के कारण श्रद्धालुओं को बाबा सिंहेश्वर नाथ के जलाभिषेक में श्रद्धालुओ को अधिक परेशानियों का सामना नही करना पड़ा. हालाकि फिर भी कई महिला श्रद्धालुओ का मंगलसूत्र और चेन गिरने की भी शिकायत मिली.

बाजार मे नही दिखी पुलिस की सुदृढ़ व्यवस्था:- बाजार में पुलिस तो थी लेकिन लेकिन जाम लगता रहा. पुलिस खड़ी होकर मूक दर्शक बनी रही. बाजार में ऑटो के चलने के कारण जाम लगता रहा और श्रद्धालुओ को परेशानी का सामना करना पड़ा. वहीं प्रशासन के द्वारा किये गये लम्बे-चौड़े दावे कि दो माह तक ऑटो का बाजार में प्रवेश पर पाबंदी रहेगी, की हवा निकल रही थी.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...