13 मार्च 2018

ग्रामीण सड़क निर्माण में संवेदक द्वारा बरती जा रही अनियमितता पर ग्रामीण आक्रोशित

मधेपुरा जिले के शंकरपुर प्रखंड क्षेत्र के  कोल्हुआ से चौराहा भाया बाण घाट बनने वाले प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क में पुल निर्माण में संवेदक द्वारा बरती जा रही अनियमिता को लेकर ग्रामीणों ने सोमवार को विरोध प्रकट किया ।


मालूम हो कि करीब 1.711 किलोमीटर सड़क की लागत एक करोड़ 71 लाख 73 हजार 691 रुपया है। आरोप है कि निर्माणाधीन सड़क में प्राक्कलन के अनुसार सामग्री नहीं दिया जाता है।  इसको लेकर ग्रामीणों ने कार्यपालक अभियंता ग्रामीण विभाग से शिकायत किया था। इस बाबत ग्रामीण शशिभूषण यादव, गुड्डू कुमार, बालदेव यादव, प्रमोद यादव, भूषण कमार, संतोष कुमार  मेहता, छोटू यादव, सिन्टू कुमार, गोविन्द, प्रभाष, राजेश, सुनील, मिथिलेश, रबन कुमार, सुबोध, नन्द किशोर, कैलू आदि ने बताया था कि संवेदक मनमानी तरीके से काम करवा रहे हैं, लोकल बालू और उचित मात्रा के अनुसार गिट्टी एवं बालू नहीं देता है। जबकि हम सभी लोग वर्षों से पक्की सड़क के लिए इंतजार कर रहे थे।

ग्रामीण के शिकायत पर ग्रामीण विभाग के कनीय अभियंता नरेश कुमार एवं गुणवत्ता जांच पदाधिकारी सचिन कुमार ने सेवदक प्लांट पर पहुंच कर मेटेरियल की जांच की। इस बावत जांच पदाधिकारी सचिन कुमार ने बताया कि गुणवत्ता की जांच की गई, सुधार की जरूरत है। संवेदक और मुंशी को प्राकलन के अनुसार रोड में  गुणवत्तापूर्ण मेटेरियल लगाने की हिदायत दी गई । 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...