31 दिसंबर 2017

ये कैसा प्रेम विवाह? बाइक नहीं मिली तो पत्नी छोड़ रचाया दूसरा विवाह

लोगों की मानसिकता में इतनी गिरावट आ चुकी है कि अब ये कहना भी मुश्किल है कि कौन सा प्रेम असली है और कौन फर्जी.  

ताजा मामले में प्रेमी से पति बने एक फर्जी व्यक्ति की शिकार बनी सीमा को न्याय दिलाने पिता ने कसी कमर और सीमा के पति के खिलाफ महिला थाना में केस दर्ज कराया है
मामला मधेपुरा जिले के गम्हरिया थाना के दुलार गांव का है जहाँ बाइक नहीं मिली तो सीमा को छोड़कर पति ने दूसरी शादी रचा ली है
 
घटना को लेकर दुलार गांव के निवासी दिनेश श्रृषिदेव ने
ताया कि मेरी पुत्री को सिंहयोन गांव के कुन्दन यादव दो वर्ष पूर्व भगाकर ले गया. जब घटना को लेकर के दर्ज करने जा रहे थे तो गांव के लोग इज्जत का हवाला देकर समाज के लोगों ने केस करने से मना कर दिया और दोनो की शादी कर दी. शादी के बाद घर वालों ने सीमा को ताना देना  शुरू कर दिया. इसी बीच सीमा गर्भवती हो गई. एक साल पूर्व सिंहेश्वर पीएचसी में एक बच्चे को जन्म दिया लेकिन बच्चा मरा हुआ था । प्रसव काल में पता चला कि कुन्दन और उनके परिवार वालों ने सीमा के गर्भवती रहने के दौरान बच्चा को खराब करने के कई तरह की दवा भी खिलाया था प्रसव के बाद सीमा अपने पति के घर चली गई और पति काम करने बाहर चला गया. इसी बीच कुन्दन ने अपने घर वालो को कहा कि सीमा के पिता से एक बाइक और एक लाख रूपया मांगे और यदि नहीं देता है तो उसे भगा दो. और फिर मांग पूरी नहीं होने पर घर वालों ने सीमा को घर से निकाल दिया. कुन्दन ने सीमा को रखने से इंकार करते हुए दो महिना पूर्व दूसरी शादी कर ली ।
 
उधर सीमा ने मधेपुरा टाइम्स को बताया कि मैं उस समय आठवीं मे पढ़ती थी. कुन्दन का बड़ा भाई घनेश यादव मेरे भाई का दोस्त था. इसी कारण कुन्दन मेरे घर आता जाता था. इसी में हम दोनो में प्यार हो गया और दोनो भागकर चंडीगढ चले गये. फिर लौट कर आने पर शादी हुई लेकिन अब मुझे घर से निकाल दिया और दूसरी शादी कर लिया ।

महिला थाना पुलिस में सीमा के पिता के आवेदन पर केस दर्ज कर लिया गया है और फिलहाल पीडि़ता का मेडिकल जांच कराने के लिए भेजा गया है ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...