02 अक्तूबर 2017

शांतिपूर्ण तरीके से संपन्न हुआ मुरलीगंज में मुहर्रम का त्यौहार

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज प्रखंड में एवं विभिन्न पंचायतों में मुहर्रम का पर्व हर्षोल्लास के साथ मनाया गया. इस अवसर मुरलीगंज काशीपुर में ताजिया का निर्माण नही हुआ एवं लाठियों के सहारे जुलूस निकाले गए.


मुस्लिम का यह पर्व मोहर्रम कड़ी सुरक्षा के बीच मनाया गया और रविवार को देर रात से ही अली हुसैन जिंदाबाद के नारे लगते रहे. रात में खिलाड़ियों ने इमामबाड़ों में औजारों एवं लाठियों का जौहर दिखाया फिर सड़क पर खेलकर करतब दिखाए. मोहर्रम के दसवें दिन से ही इमामबाड़ों ने खिलाड़ियों का जमावड़ा लग रहा था अपने-अपने मोहल्ले में जुलूस निकाल कर लाठी फरसा तलवार आदि के करतब दिखाये गये। फिर रात भर अपने ही अखाड़े पर खेल कर पहलाम शांति पूर्ण वातावरण में सम्पन्न करा लिया। 

मुहर्रम का उद्देश्य ही त्याग, समर्पण और सत्य मार्ग का अनुसरण करना तथा आपसी प्रेम व भाईचारे के साथ सेवा का भाव स्थापित करना है। ऐसे में इस भावना के अनुकूल इस पर्व को मनाने का लोगों ने संकल्प लिया है। इस पर्व के साथ ही इस्लामी नया साल भी प्रारंभ होता है। ऐसे में इस पर्व पर अमन शांति, एकता, भाईचारा और खुशहाली की कामना की।  ढोल तमाशे के साथ खिलाड़ियों का जत्था देर तक सड़कों पर उतरता रहा युवाओं ने अखाड़े में अपने हैरतअंगेज कारनामे वाले करतब दिखाए. 

इस जुलूस में पुलिस बल के साथ-साथ थानाध्यक्ष राजेश कुमार पुलिस पदाधिकारी रामचंद्र प्रसाद सिंह, परमात्मा सिंह, विश्वकर्मा, अंचलाधिकारी शशि भूषण कुमार एवं नगर पंचायत के कार्यपालक रमण कुमार चौपाल जुलूस के साथ साथ चाक चौबंद व्यवस्था में लगे हुए थे. यह जुलूस मुरलीगंज एल पी एम कॉलेज में अपने करतबो का प्रदर्शन करेगी.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...