19 अगस्त 2017

राहत पहुंचने की कोशिश: विधायक सह पूर्व मंत्री ने किया बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का दौरा

मधेपुरा जिले के उदाकिशुनगंज अनुमंडल क्षेत्र में नदी के उफान से हजारों एकड़ फसल बर्बाद व बेघर लोगों को देखने शुक्रवार को विधायक सह पूर्व मंत्री नरेंद्र नारायण यादव चौसा पश्चिमी के जिप सदस्य अनिकेत कुमार मेहता और एसजेड हसन के साथ बाढ़ ग्रस्त क्षेत्र का दौरा किया।


सभी मोटर वोट से आलम नगर प्रखंड के सुखाड़ घाट पहुंचे वहां एक बच्चे की मौत हो गई थी. पीड़ित परिवार को चार लाख रूपये का चेक एवं गौछी में भी पीड़ीत परिवार को चार लाख का चेक दिया गया। फिर उन्होंने कोसी नदी को पार कर कपसिया, दलित टोला, खापुर, रतवारा, सोना मुखी के सभी राहत शिविर का जायजा लिया । 

उसके बाद मोरसंडा पंचायत पहुंचे पंचायत के श्रीपुर बासा, प्रवत्ता, अजगैवा, धनेसपूर, त्रिवेणी वासा, तीनमूही मुसहरी टोला, रामचरण टोला, चिरौरी, फुलौत पूर्वी पंचायत के बड़ी खाल, नवटोलिया, पियोरा वासा, बरबिग्घी, करैलवासा, भगतबासा एवं फुलौत पश्चिमी पंचायत के झंडापूर बासा, पनदही बासा, घसकपुर बासा, सपनी मुसहरी, सहित कई बस्ती का दौरा कर राहत शिविर पर पहुंचकर बाढ़ पीड़ितों से मिलकर उनकी  स्थिति की जानकारी ली। 

मंत्री ने पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि बाढ़ राहत शिविर में चिकित्सा व्यवस्था, साफ सफाई एवं खासकर बच्चों का विशेष रुप से ध्यान रखा जाए।  उन्होंने बताया कि प्रत्येक पीड़ित परिवार को 1 लीटर किरासन तेल अतिरिक्त रूप में दिया जाएगा और  प्रत्येक परिवार को 6000 रुपये  सहायता राशि के तौर पर और जिनके घर की क्षति हो गई है, उन्हें 95 हजार रूपये सहायता राशि के रूप में मुहैया कराया जाएगा । उन्होंने एसडीएम एसजेड हसन को निर्देश दिया कि लौआलगाम पूर्वी एवं पश्चिमी पंचायत में अविलंब बाढ़ राहत शिविर खोला जाए.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...