27 मई 2017

15 वर्षों से मौत से खेलते व्यक्ति ने मधेपुरा में फिर ली जमीन के तले समाधि (वीडियो)

मधेपुरा जिला के चौसा प्रखंड अंतर्गत लौआलागन पश्चिमी पंचायत के पंचायत भवन परिसर में यूपी से आए हुए कलाकार पिछले 8 दिनों से तरह-तरह के करतब दिखा रहे हैं ।

पर आज का जो करतब था वह बिल्कुल अजीबोगरीब था. जैसा कि आज से लगभग 1 वर्ष पूर्व अरजपुर पश्चिमी पंचायत के भटगामा पंचायत में प्रमोद बाबा 15 दिनों के लिए समाधि लिए थे और बहुत ही चर्चा का विषय रहा था,  बस उसी तरह यूपी के कलाकार पांच घंटे के लिए समाधि लिए हैं।

लेकिन यहाँ फर्क बड़ा है. बाबा ने कैमरे के सामने समाधि लेने से मना कर दिया था। लेकिन इस कलाकार ने मधेपुरा टाइम्स के कैमरे के सामने सारा काम किया। कई सवाल पूछे जाने पर खेल के सरदार मोहम्मद कल्लू
मस्तान ने बारीकी से जवाब दिया. यह कैसे करते हैं तो उसने बताया कि यह कला है। यह कब से करते हैं  तो बताया जिंदगी और मौत से खेलते हुए 15 वर्षो बीत गए हैं। आप यह कैसे कर लेते हैं तो उन्होंने कहा कि यह हुनर मुझे राजस्थान के एक उस्ताद ने सिखाया है। उन्होंने बताया कि यह मौत का कुआं साढ़े तीन फीट गहरा और ढ़ाई फिट चौड़ा चार फिट लंबा है। आप ऐसा क्यों करते हैं तो उन्होंने कहा पापी पेट का सवाल है।

इसके बाद मोहमद इरसाद को बोरे में डाल कर समाधि के अंदर करके ऊपर से मिट्टी डाल कर पैक कर दिया। 

(देखिये इस वीडियो में युवक को कैसे डाला समाधी के अन्दर, यहाँ क्लिक करें)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...