25 अप्रैल 2017

सुपौल में जलकर महिला की मौत पर उठ रहे सवाल, गहन अनुसंधान की दरकार

सुपौल जिले के छातापुर थानाक्षेत्र के सोहटा वार्ड नंबर एक में एक विवाहिता के द्वारा आग लगाकर जीवन की ईहलीला समाप्त कर लेने की घटना पर सवालिया निशान भी लग रहे हैं.

घटना रविवार देर रात की बतायी जा रही है. मृतका के श्वसुर अंतर सिंह की माने तो  घटना की रात तकरीबन 11 बजे घर के सभी लोग सो रहे थे. उसी दौरान उनके पुत्र मंजेश कुमार सिंह की पत्नी 25 वर्षीया मनीषा देवी अकेले घर के पिछवाड़े चली गई और शरीर पर केरोसिन उड़ेलकर आग लगा लिया. गंभीर रूप से झुलस चुकी मनीषा को उपचार के लिए पटना ले जाया गया, जहाँ पीएमसीएस में उपचार के दौरान मौत हो गई.

पुलिस सूत्रों के मुताबिक पीएमसीएस में मनीषा की मौत के बाद स्थानीय पुलिस द्वारा मृतका की माता का फर्दबयान दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम कराया गया है, जिसके बाद मृतका के शव को उसके मायके वाले रौता ले गये. 

मृतका के ससुराल वालों की माने तो वह हाल के वर्षों में अपने पति मंजेश सिंह के साथ पटना में ही रहती थी. एक सप्ताह पूर्व मायके आने के दौरान वह पटना से दवा साथ नहीं लाई थी. मृतका मनीषा बचपन से ही मानसिक रूप से अस्वस्थ चल रही थी और नियमित रूप से प्रतिदिन दवा का सेवन उसके लिए जरूरी था, परंतु बीते एक सप्ताह से उसने दवा का सेवन नही किया. दवा सेवन नहीं करने के कारण वह विक्षिप्त जैसी हरकत करते उसने आत्महत्या कर ली. घर की महिलाओं ने बताया कि पांच वर्ष पूर्व ही उनके पुत्र का विवाह सहरसा जिला के रौता निवासी स्व मदन सिंह की पुत्री मनीषा से हुआ था. पांच वर्ष बीत जाने के बाद भी उसे संतान नहीं हो पाया था, जिस कारण भी वह हमेशा तनाव में रहा करती थी.

बहरहाल महिला की मौत के कारणों को लेकर गांव में कई प्रकार की चर्चाएँ जारी हैं. दबी जुबान से कई लोगों का कहना था कि यदि मानसिक रूप से अस्वस्थ होने और नियमित दवा सेवन की बात थी तो पति और ससुराल वालो ने दवा मंगाने को लेकर गंभीरता क्यों नही दिखाई? और फिर जब आग लगी तो परिवार वालों ने तुरंत आग क्यों नहीं बुझाई और महिला पूरी कैसे जल गई? लिहाजा घटना की सच्चाई, यदि सही से हो तो, अब पुलिस अनुसंधान के बाद ही सामने आ सकेगी. 

इस बावत छातापुर थानाध्यक्ष राजीव कुमार झा ने मधेपुरा टाइम्स के पूछने पर बताया कि पीएमसीएस में महिला की मौत के बाद मायके वालों ने स्थानिय पुलिस के समक्ष फर्दबयान दर्ज कर शव का पोस्टमार्टम कराया और शव को मृतका के मायके  रौता ले गये. बताया कि छातापुर पुलिस अग्रेतर कार्यवाही के लिए वरीय अधिकारियों के आदेश की प्रत्याशा में है.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...