18 मार्च 2017

कब्रिस्तान घेराबंदी को लेकर तनाव हुआ ख़त्म: सामाजिक सदभाव की मिसाल कायम

मधेपुरा जिले के घैलाढ़ थाना परिसर में शनिवार को जनता दरबार लगा कर कई छोटे बड़े मामलो का अंचलाधिकारी सतीश कुमार व थानाध्यक्ष राजेश कुमार टू ने निष्पादन किया.

    वहीँ अरहा महुवा दीघरा पंचायत के महुआ वार्ड नं0 13 में एक सप्ताह पूर्व कब्रिस्तान के घेराबन्दी को लेकर चल रहे दो समुदाय के बीच आपसी तनाव का आज जनता दरबार में अंचलाधिकारी सतीश कुमार व थानाध्यक्ष राजेश कुमार टू के समक्ष पंचायत के जनप्रतिनिधि व बुजुर्गों ने मिल कर मामला का निष्पादन किया.

मामला क्या था?: महुआ में कब्ररिस्तान का जब घेराबन्दी शुरू किया तो जमीन मालिक प्रमोद यादव ने काम रोकवा दिया। दरअसल बात यह है कि कब्रिस्तान की अपनी जमीन जिसका खेसरा न0 2978 है. इससे सटे खतियानी जमीन जिसका खेसरा न0 2979 है जिसमे शुरू से आज तक मुर्दा दफनाया जाता था. इसकी जानकारी जमीन मालिक को आज तक नहीं थी. जब कब्रिस्तान का घेराबन्दी शुरू हुई तब जमीन मालिक ने इसकी खोजबीन करना शुरू किया। और फिर कब्रिस्तान की घेराबंदी कार्य को बाधित हुआ, जिससे दो समुदायो में तनाव की संभावना होते होते बच गया.

सामाजिक सदभाव की कायम रही मिशाल: इसी बीच थानाध्यक्ष राजेश कुमार टू व आंचलाधिकारी सतीश कुमार ने अरहा महुआ दीघरा के जनप्रतिनिधि एवम गण्यमान्य लोगो से बात चीत कर जमीन मालिक को समझा बुझा कर एक हिन्दू यादव परिवार ने मुस्लिम समाज के कब्रिस्तान के लिए अपनी निजी जमीन में से 14620 वर्ग फिट / 33डी जमीन पंच नामा बना कर दान कर दिया । वहीँ जमीन मालिक प्रमोद यादव को सभी नगर वासियों व मुस्लिम समुदाय के लोगो से बातचीत कर एक सांप्रदायिक सदभाव का मिसाल कायम किया । वहीँ मौके पर जिला प्रतिनिधि बी के आर्यन, पूर्व जिला परिषद दिनेश यादव उर्फ फ़ौजी, दयानन्द सिंह, पंचायत समिति, शिवनन्दन यादव, दिनेश कुमार, वोकुमिया, मो समसुल, मो इकवाल, समयद आलम आदि उपस्थित थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...