05 जून 2016

नही सुधरे अधिकारी: आज फिर चौसा में बिजली के करेंट लगने से हुई मौत

मधेपुरा जिले के चौसा प्रखंड में कई जगह बिजली के जर्जर तार लोगों की जाने ले रहे हैं और विभाग हत्यारा बना चुपचाप देख रहा है. कई मामलों में विभाग को सिर्फ बढ़ा-चढ़ाकर बिल भेजने और छापेमारी से ही मतलब है. इन जर्जर तारों की सुधि अधिकारी बार-बार ध्यान आकृष्ट कराने पर भी नहीं ले रहजे हैं.
            अभी दो दिन पहले ही चौसा बाजार में जहाँ एक खैनी बेचने वाले की करेंट से मृत्यु हो गई थी वहीँ मिली जानकारी के अनुसार चौसा प्रखंड के अरजपुर में एक ट्रक का खलासी अपने ट्रक की छत पर रस्सी उतारने चढ़ा था कि ऊपर 11000 वाल्ट के तार से स्पर्स होने से उसी जगह मौत हो गई.
    मृतक चनेश यादव उर्फ़ चंद्रकिशोर यादव 40 वर्षीय ग्राम तिरी थाना बैजनाथपुर ओपी जिला सहरसा का रहने वाला था. मृतक को दो पुत्री और एक पुत्र है.
     यही नहीं एक दूसरी घटना में आज ही चौसा बाजार में 440 वाल्ट का तार फिर टूट कर गिरा पर खुदा का लाख लाख शुक्र है कि बाजार में कुछ भी नहीं हुआ. बीते दिन बाजार में ही बिजली के तार गिरने से एक वृद्ध की मौत हो गई थी, जिस में लोगों ने सड़क जाम कर प्रदर्शन किया तथा बिजली विभाग से पुराने बिजली के तार बदलने और मृतक को मुआवजा दिलाने की मांग की गई थी.
    प्रखंड विकास पदाधिकारी मिथिलेश बिहारी वर्मा और थानाध्यक्ष सुमन कुमार सिंह के समझने तथा सरकारी लाभ दिलाने की बात कहने पर जाम छूटा था. इस तरह के बार बार तार टूटने की घटना को देखते हुए थानाध्यक्ष श्री सिंह ने कहा कि जिलाधिकारी को इसकी जानकारी लिखित रूप से दूंगा.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...