15 मई 2016

सिंडिकेट की बैठक से ठीक पहले आज पृथ्वीराज यदुवंशी गिरफ्तार, भेजे गए जेल

गत 6 मई को पूर्णियां में हंगामे की भेंट चढ़ चुकी सिंडिकेट की अगली बैठक जहाँ मधेपुरा में कल आयोजित होनी है वहीँ ठीक इससे एक दिन पहले आज शोध छात्रा रिंकी यदुवंशी के पति और मंडल विश्वविद्यालय में कार्यरत पृथ्वीराज यदुवंशी को पुलिस ने एक मामले में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है.
    मिली जानकारी के अनुसार कल बी.एन.एम.यू., मधेपुरा के परिसर में होने वाली सिंडिकेट की बैठक को ध्यान में रखते हुए परिसर में धारा 144 लागू कर दिया गया है और भारी मात्रा में पुलिस बल की नियुक्ति की गई है. विश्वविद्यालय प्रशासन को आशंका थी कि कल सिंडिकेट की बैठक के दौरान छात्र संगठन और कुलपति के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों के बावत विजिलेंस में आवेदन देने वाली शोध छात्रा रिंकी यदुवंशी के द्वारा फिर हंगामा किया जा सकता है.
    पृथ्वीराज यदुवंशी की गिरफ्तारी के बावत मधेपुरा सदर थानाध्यक्ष मनीष कुमार ने जानकारी दी कि उन्हें एक अन्य मुक़दमे, जो स्थानीय निवासी विशेश्वर राम के द्वारा उनपर पृथ्वीराज यदुवंशी और पत्नी पर मारपीट करने व जातिसूचक गाली देने के आरोपों को लेकर है, में गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है. बताया गया कि सूचक विशेश्वर राम ने थाना में एक मुकदमा दर्ज कराया है जिसमे कहा है कि उन्हें भूदान में दी गई जमीन पर पृथ्वीराज यदुवंशी जबरन घर बना कर रह रहे हैं और उनके साथ मारपीट की गई और जाति सूचक गाली दी गई.
     उधर एक तरफ जहाँ रिंकी यदुवंशी ने अपने पति को कुलपति के द्वारा साजिश कर फंसाने की बात कही है वहीं छात्र संगठन एबीवीपी के संयोजक राहुल यादव ने कहा कि अपनी मांगों को लेकर छात्र संगठन गंभीर है और धारा 144 के बावजूद कल हम विश्वविद्यालय परिसर में अपने कार्यक्रम के अनुसार अधिकारियों का ‘जूता पॉलिश’ कर अपना विरोध प्रदर्शित करेंगे. उन्होंने कहा कि हमारी कई मांगें हैं जो बिलकुल जायज है और हमने इस बावत कुलपति से वार्ता करने की बात भी कही, जिसे ठुकरा दिया गया.
(नि.सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...