17 अप्रैल 2018

आंगनबाड़ी केन्द्र को लेकर मचा बबाल, सेविका बहाली के नाम पर मची है लूट

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज प्रखंड अंतर्गत हरिपुरकला पंचायत के पकिलपार वार्ड संख्या- 03 स्थित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 125 में पिछले 5 वर्षों से लटक रहा है ताला. 


तक़रीबन 9 लाख की लागत से बना सरकारी आंगनबाड़ी केंद्र का भवन भूतबंगला में तब्दील हो रहा है.
                          
दरअसल आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 125 की सेविका मनीकला कुमारी की मनमानी व लापरवाही के कारण नवनिर्मित भवन में ताला लटक रहा है. निर्धारित आंगनबाड़ी केन्द्र स्थल को छोड़कर सेविका अपने दरवाजे पर वार्ड संख्या-01 में ही जबरन केन्द्र चला रही है जबकि पूर्व से इस वार्ड में संचालित केन्द्र संख्या-124 है. लेकिन स्थानीय बाल-विकास परियोजना पदाधिकारी के मिलीभगत से अवैध रूप से अपने दरवाजे पर ही चला रही है.

इस मामले में एक बार ही नहीं, पूर्व में कई बार स्थानीय पोषक क्षेत्रीय ग्रामीण मिलकर बालविकास परियोजना पदाधिकारी मुरलीगंज समेत जिला प्रोग्राम पधाधिकारी मधेपुरा को लिखित आवेदन दे चुके हैं, लेकिन इस मामले को लेकर अब तक कोई आवश्यक कार्रवाई नहीं की जा रही है. वहीँ केन्द्र संख्या 125 की सेविका मणिकला कुमारी को पूर्व में तत्कालीन बालविकास परियोजना पधिकारी मुरलीगंज के पत्रांक 51 /17  दिनांक 8 फरवरी 2017 को कार्यालय आदेश निर्गत कर कहा गया कि अपने निर्धारित स्थान पर केन्द्र संख्या 125 एवं वार्ड संख्या-03 स्थित केन्द्र संचालित किया जाय, अन्यथा सेविका मानिकला कुमारी के विरुद्ध तत्काल प्रभाव से सख्त आवशयक कार्रवाई की जाएगी.

लेकिन बालविकास परियोजना पदाधिकारी के आदेश और सरकारी नियमों को ताख पर रखकर सेविका मणिकला कुमारी अपनी मनमानी व दबंगई के बल पर अपने घर ही केन्द्र संचालित कर रही है जबकि पूर्व से ही यहाँ एक केन्द्र संख्या-124 संचालित है.

इस बाबत स्थानीय ग्रामीण कृष्णदेव यादव, जनार्दन यादव, दिलीप रॉय, जवाहर यादव, मंजू देवी, रजिया देवी, रमेश पासवान, चंदेश्वरी पासवान, किशोर पासवान आदि लोगों ने कहा कि यहाँ सेविका मणिकला कुमारी और स्थानीय बालविकास परियोजना पदाधिकारी की लापरवाही के कारण लाखों के लागत से बना सरकारी भवन भूतबंगला में तब्दील हो रहा है. वहीँ इस बार फिर से वार्ड संख्या-03 में ही नियमों को ताक पर रखकर सेविका की बहाली की जा रही है. जिसके कारण पिछले शुक्रवार को स्थानीय ग्रामीणों ने बबाल काटा जिससे सेविका चयन प्रक्रिया पर ग्रहण लगा है.

इस बाबत महिला पर्यवेक्षिका सुप्रभा रानी ने बताया कि पुनः 20 अप्रैल को आम सभा की बैठक बुलाकर चयन प्रक्रिया पूरी की जाएगी. एक सवाल के जबाब में महिला पर्यवेक्षिका सुप्रभा रानी ने गोल मटोल जवाब देते हुए कहा कि हम तो हर बार सही-सही रिपोर्ट करते आये हैं, पता नहीं यहाँ के जनता क्यों नाराज हैं. वैसे आप कार्यालय आइये बैठकर बातचीत की जाएगी. हम भी रहेंगे और कार्यालय में मैडम सुनीता कुमारी भी रहेगी. इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कहीं ना कहीं जरुर कोई बात है.

उधर बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सुनीता कुमारी से पूछे जाने पर उन्होंने बताया कि वार्ड संख्या-03 में सेविका बहाली पर तत्काल अगले आदेश तक रोक लगा दी गयी है.

इस बाबत एसडीएम संजय कुमार निराला से पूछे जाने पर उनहोंने बताया कि मेरे संज्ञान में नहीं है इस तरह की कोई मामला, लेकिन इस गंभीर मामले को लेकर जांचकर उक्त सेविका मणिकला कुमारी के विरुद्ध आवश्यक कार्रवाई की जाएगी. साथ ही बाल विकास परियोजना पदाधिकारी सुनीता कुमारी से कारण बताओ नोटिस के तहत तत्काल प्रभाव से वार्ड संख्या-03 में सेविका बहाली पर रोक लगा दी जाएगी.

वहीँ इधर मुरलीगंज प्रखंड प्रमुख मनोज कुमार साह ने बताया कि पूरे प्रखंड में आंगनबाड़ी सेविका बहाली को लेकर लूट मची हुई है. चारों तरफ आंगनबाड़ी केन्द्र पर सेविका बहाली को लेकर अवैध रूप से मोटी रकम की उगाही की जा रही है जिस कारण मुरलीगंज प्रखंड क्षेत्र के जनता में ख़ासा आक्रोश व्याप्त है.     

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...