21 फ़रवरी 2018

मेरे पिता ने कभी भाजपा से समझौता नहीं किया और हम भी कभी नहीं करेंगे: तेजस्वी यादव

संविधान बचाओ न्याय यात्रा के सिलसिले में बिहार विधान सभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने बुधवार को मधेपुरा जिले के बिहारीगंज में एक महत्वपूर्ण सभा को संबोधित किया । 

तेजस्वी यादव ने कहा कि पिछले विधान सभा चुनाव में जिस पार्टी को लोगों ने जनादेश दिया उसके नेता आज जेल में हैं. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर कटाक्ष करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि राजद का सहयोग नहीं मिलता तो वे कभी मुख्यमंत्री नहीं बनते. सम्मानपूर्वक बड़ा भाई कहने वाले को फिरकापरस्तों के षड्यंत्र में शामिल होकर जेल भेजवा कर विश्वासघात किया तथा सांप्रदायिक शक्तियों से हाथ मिलाकर गरीबों को गुलाम बनाने तथा आरक्षण को समाप्त करने की साजिश कर रहे हैं. राज्य के गरीबों, दबे-कुचलों, असहाय एवं निर्धन लोगों को लालू जी ने वर्षों से बंधे जिस खूंटे से आजाद कराया आज सरकार उन्हें फिर से उसी खूंटे से बांधना चाह रही है. 

तेजस्वी यादव ने कहा कि राज्य में सामाजिक न्याय की धारा को कमजोर करने एवं गरीब-गुरबों को उनके हक से वंचित करने हेतु केन्द्र एवं राज्य की सरकारें कोई कोर-कसर छोड़ना नहीं चाह रही है. हमारे एवं हमारे परिजनों को तंग तबाह करने के लिए सारी ताकतों की आजमाईश की जा रही है. आरक्षण तक को समाप्त करने की साजिश चल रही है. कुछ ऐसी शक्तियां देश पर काबिज हो गई है जो गरीबी नहीं गरीबों को मिटाने तुली है, संविधान बदलने की बात कर रही है। मोहन भागवत आरक्षण समाप्त करना चाहते हैं। जिन लोगों का देश की आजादी की लड़ाई में कोई योगदान नहीं है वह आज देश भक्ति का सर्टिफिकेट बांट रहे हैं। इसी वजह से राजद के द्वारा  संविधान बचाने के लिए न्याय यात्रा निकाली गयी है। बिहार की जनता अवश्य न्याय देगी यह पूरा विश्वास है। 

तेजस्वी ने नीतीश कुमार को पलटीमार चाचा कहकर संबोधित करते हुए कहा कि वे बोला करते थे कि मिट्टी में मिल जायेंगे पर भाजपा में नहीं जायेंगे. लेकिन अब वे भाजपा की गोद में जा बैठे हैं. जनता अब उनको मिट्टी में मिलाने को तत्पर दिख रही है. ग़रीबों का आरक्षण आरएसएस के लोग बदलना चाह रहे है. संविधान बदल जाने पर आप लोगो का वोट देने का अधिकार छीन जायेगा. बालू की महंगाई की चर्चा की और कहा कि आज नौजवान बेरोजगार हैं और सूबे के मुख्यमंत्री कहते हैं कि बिहार मे बहार है. जैसे मेरे पिता कभी समझौता भाजपा से नही किया वैसे हम भी वचन देते हैं कि हम बीजेपी से समझौता नहीं करेंगे. नेता प्रतिपक्ष ने उपस्थित जनसमूह से हाथ उठाकर भाजपा भगाने संविधान बचाने गरीबों का हक दिलाने का वादा एवं संकल्प दिलाया।

प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने बिहारीगंज के उच्च विद्यालय के मैदान पर  कहा कि लालू जी ने महागबंधन बनाया, बिहार के हित के लिए, देश के हित के लिए, भाईचारे के लिए और बिहार के विकास के लिए। यह जानते हुए भी कि नीतीश जी ने भाजपा के साथ मिलकर लालू जी को जेल भेजवाने का काम किया। लेकिन लालू जी का दिल इतना बड़ा था कि वे अपने विचारधारा से समझौता न कर आपलोगों के लिए अकलियतों के लिए,अंतिम पायदान पर खड़ा व्यक्ति, उसके लिए सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते नीतीश कुमार को बिहार का मुख्यमंत्री बनाया। जिसने लालू को जेल भिजवाया उसे लालू ने कुर्सी पर बैठाया इससे साबित होता है कि लालू जी को कुर्सी का लोभ नहीं है। वे गरीब जनता के लिए अपनी जान तक दे सकते है। पर अपने सिद्धांत से समझौता नहीं कर सकते है। हम आपके बेटा हैं भाई हैं हमको अगर लालच होता हम भी भाजपा से समझौता कर सरकार बना लेते पर ऐसा नहीं किया। उन्होंने नोटबंदी, कालाधन शराबबंदी आदि बिन्दुओं पर भी अपनी बात को रखा। उन्होंने कहा कि जब लालू जी जेल जाने लगे तो उन्होंने कहा कि बेटा जब तुम्हारा मनोबल टूटे निराशा आए तो सीधे जनता मालिक के दरबार में जाना और उनसे शक्ति प्राप्त करना। 

सभा को राजद विधायक सह पूर्व मंत्री प्रो चन्द्रशेखर, राष्ट्रीय परिषद सदस्य ई प्रभाषयुवा राजद जिलाध्यक्ष मुन्ना खान, आदि ने संबोधित किया. मंच संचालन जहाँ बिहारीगंज राजद प्रखंड अध्यक्ष तोताराम कामती कर रहे थे वहीँ सभा की अध्यक्षता राजद जिलाध्यक्ष देवकिशोर यादव ने की।

मौके पर पूर्व जिलाध्यक्ष राजद प्रो खालिद, प्रो अरविंद कुमार पूर्व जिला अध्यक्ष, कांग्रेस के भूतपूर्व जिलाध्यक्ष सैयद सउद आलम, युगेन्द्र राम संयोजक अभियान समिति, संदीप यादव (प्रदेश संयोजक समेत कई नेता, कार्यकर्ताओं और लोगों की भारी भीड़ थी.
(रिपोर्ट:  रानी देवी/अख्तर वसीम)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...