06 अक्तूबर 2017

घर से मेला देखने गए किशोर का शव मिला, अपहरण कर हत्या की आशंका

मधेपुरा जिला के पुरैनी थाना अंतर्गत फूलपुर पंचायत से चौसा थाना अंतर्गत रसलपुर धुरिया पंचायत के कुंजर टोली मुहर्रम का मेला देखने गए किशोर की हत्या कर दी गई. आज उसका शव सड़ी गली अवस्था में चौसा प्रखंड के घोषई पंचायत केलाबाड़ी के बहियार में धान के खेत में मिलने से सनसनी फ़ैल गई।


लाश मिलने के बाद परिजनों ने की शिनाख्त। पुलिस ने त्वरित कारवाही करते हुए एक की गिरफ़्तारी।

बताया जाता है कि पुरैनी थानांतर्गत फूलपुर निवासी जवाहर यादव, पिता अन्तलाल यादव ने चौसा थाना को आवेदन देकर अपने पुत्र के अपहरण  का मामला दर्ज करवाते हुए गाँव के ही लोगों पर अपहरण करने का आरोप लगाया है । थाना में दिए अपने आवेदन में उन्होंने बताया है  कि 02 अक्टूबर 2017 को मेरा पुत्र अमृत कुमार 14 वर्षी शाम को रसलपुर धुरिया के कुंजर टोली ताजिया मेला देखने के लिए गया था और वहीँ से मेरे पुत्र का अपहरण कर लिया गया. मैं अपने स्तर से सगे संबंधियों और आसपास के टोलों में उसको काफी तलाशा लेकिन  वह कहीं नहीं मिला ।
जवाहर यादव ने अपने आवेदन में अपहरण की आशंका जताते हुए गाँव के ही  रवि कुमार ठाकुर-पिता विवेका ठाकुर, राजीव यादव-पिता नंदेव यादव, रमन यादव-पिता नंदेव यादव, मुकेश साह- पिता धन्नी साह, भुट्टो साह-पिता बिपिन साह, शालिग्राम शर्मा-पिता त्रिवेणी शर्मा, सभी निवासी फूलपुर थाना पुरैनी और  ललित मंडल पिता स्वर्गीय दिनेश मंडल थाना चौसा गोढ़ियारी निवासी पर अपहरण का आरोप लगाया  था। जिस का शव आज चौसा थाना अंतर्गत घोषई पंचायत के केलाबाड़ी के बहियार में उसमे मिली जब कुछ ग्रामीण घास काटने के लिए उस तरफ गई और बदबू आने की वजह से देख लोगों को जानकारी दी गई तथा इसकी सूचना चौसा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह को दी गई । 

शव को देखने से पहचान करना मुश्किल था तथा इस की सूचना और इस की जवाहर यादव को दी गई. शव की पहचान कपड़ों से की गई तथा अंत्यपरीक्षण  के लिए मधेपुरा भेज दिया गया। इस मामले में पूछे जाने पर अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी अरुण कुमार दुबे तथा थाना अध्यक्ष सुमन कुमार सिंह कुछ भी कहने से इंकार किया। श्री सिंह ने कहा की कार्यवाही करते हुए हत्या के मास्टर माइंड को गिरफ्तार किया गया है।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...