ए मुहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आया: प्रेमी और परिजनों ने की प्रेमिका की हत्या, शव को पेड़ से लटकाया

ऐ मोहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आया
जाने क्यों आज तेरे नाम पे रोना आया


मधेपुरा जिला के चौसा थाना अंतर्गत टिल्हारही में  वृक्ष से लटके एक नाबालिग लड़की के शव को देख गांव में सनसनी फैल गई । मामला प्रेम प्रसंग का प्रतीत होता है।

प्यार की सजा मिली, असफल प्रेम कहानी की चर्चा है पूरे इलाके में 

बताया जाता है कि चौसा थाना क्षेत्र के रसलपुर धुरिया पंचायत के टिल्हाराही  वार्ड नंबर  14 निवासी मंजीत मंडल की पुत्री कविता कुमारी शानिवार संध्या 7 बजे  से अपने घर से पास के ही अपने प्रेमी दीपक कुमार के साथ प्रेमी के घर चली गई । इधर कविता के परिजन कविता को ढूंढते हुए प्रेमी घर पहुंचे तो देखा कि कविता प्रेमी साथ उस के घर में थी। परिजन ने कविता को अपने घर ले जाने का अथक प्रयास किया तो कविता अपने पिता के घर जाने से इनकार कर दिया। जब कविता के परिजन ने दीपक को शादी के लिए कहा तो वह अपने परिजन के दबाव आकर शादी से इनकार कर भागने लगा । सूत्रों के अनुसार तब प्रेमिका ने कहा कि आप जहां जाएंगे में भी आप के साथ रहूंगी।यह सब देख हंगामा होने लगा जिससे आस पास के ग्रामीणों इकठे हुए और दोनों पक्षों के बीच विवाह संबंधी बातचीत हुई जिसमें पता चला कि सुबह शादी की बात की जाएगी तथा लड़की को अपने घर जाने को कहा गया लेकिन लड़की अडिग रही कि मैं रहूंगी तो अभी इसी घर में रहूंगी और वह प्रेमी के घर अंदर चली गई ।
सूत्रों का यह भी मानना है कि लड़की सुबह 3:00 बजे सुबह तक प्रेमी के घर ही थी। इसी दौरान अचानक बिजली चले जाने से अंधेरा हो गया और अंधेरा का  फायदा उठाकर उन लोगों ने लड़की की हत्या कर शव को पास के ही एक बगीचे में वृक्ष से गले मे दुपट्टा का फंदा लगा कर लटका दिया। जिस से यह प्रतीत हो कि लड़की ने आत्महत्या की है।

क्या कहते हैं मृतका के परिजन? 

मृतका के भाई सितावी कुमार बताते हैं कि कल्पना को गाँव के ही  महेंदर मंडल के पुत्र दीपक कुमार से एक वर्ष पूर्व प्रेम हो गया था. दीपक मेरे घर बराबर आता जाता था और मेरी बहन कई बार उसको शादी के लिए कहती थी तो वह कहता था कि पहले हम अपने माँ और पिता को मना लेंगे तब शादी करेंगे और टाल देता था। बीते शनिवार को भी दीपक मेरे घर आया था उसी समय से कविता घर में नहीं थी। उसने कविता को अपने घर ले जाकर अपने रिश्तेदारों के साथ मिल कर मार डाला।

उधर उदाकिशुनगंज पुलिस पदाधिकारी सी पी यादव ने प्रेस वार्ता कर बताया कि इस तरह लड़की की हत्या कर जघन्य अपराध किया गया है। प्रथम दृष्टया प्रतीत होता है कि लड़की की हत्या कर उसको पेड़ से लटका कर उसको आत्महत्या का रूप देने की कोशिश की गई है। पुलिस प्रशासन ने लड़की के परिजनों के लिखित आवेदन पर त्वरित कारवाही करते हुए लड़के के माता पिता समेत पाँच अभियुक्त को हिरासत में लेकर पूछताछ कर रही है। जल्द ही फरार अभियुक्त होंगे गिरफ़्तार।

उधर गाँव में भी जितनी मुँह उतनी बातें हो रही है। लोग एक ही बात कहते थे कि इस तरह निर्मम हत्या नहीं होनी चाहिए।
ए मुहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आया: प्रेमी और परिजनों ने की प्रेमिका की हत्या, शव को पेड़ से लटकाया ए मुहब्बत तेरे अंजाम पे रोना आया: प्रेमी और परिजनों ने की प्रेमिका की हत्या, शव को पेड़ से लटकाया   Reviewed by मधेपुरा टाइम्स on May 13, 2018 Rating: 5

No comments:

Powered by Blogger.