24 मार्च 2018

घर में सोए युवक की नृशंस हत्या, मंगाया गया डॉग स्क्वायड

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज थाना अंतर्गत भेलाही गांव के वार्ड नंबर 7 मैं स्वर्गीय जागो यादव के छोटे पुत्र पुत्र राजन कुमार उर्फ़ छोटू कुमार (उम्र 22 वर्ष) की हत्या शुक्रवार की रात कर दी गई।

घटना की जानकारी होने पर मुरलीगंज थाना अध्यक्ष इंस्पेक्टर जयप्रकाश चौधरी  घटनास्थल पर पहुंचकर मामले की तहकीकात शुरू की पर आक्रोशित ग्रामीणों ने एसएच 91 को जाम कर दिया. जाम सुबह के 8:00 बजे से लेकर दिन के 2:00 बजे तक लगा रहा. ग्रामीणों की मांग थी कि मामले की जांच डॉग स्क्वायड टीम से करवाई जाए तब ही मृतक के शरीर को पोस्टमार्टम में भेजेंगे.

थाना अध्यक्ष इंस्पेक्टर जयप्रकाश चौधरी ने घटना की जानकारी देते हुए बताया कि स्वर्गीय जागो यादव के दो पुत्र, बड़ा राजीव कुमार (उम्र 30 वर्ष) और छोटा राजन कुमार उर्फ छोटू शुक्रवार की रात छोअपने तीन कमरों के नवनिर्मित मकान, जिसमें खिड़की और दरवाजे नहीं लगे थे, में सोये हुए थे. वहीं साथ वाले कमरे पर गांव के  पंडित स्वर्गीय केदारनाथ ठाकुर के पुत्र बम शंकर ठाकुर बगल के कमरे में सोए हुए थे क्योंकि उनके यहां कुछ मेहमान आए हुए थे.

थानाध्यक्ष इंस्पेक्टर जयप्रकाश चौधरी ने बताया कि नृशंस हत्या में हत्यारे खिड़की दरवाजा नहीं होने के कारण आराम से घर में प्रवेश किये और रजाई ओढ़ कर सोए हुए राजन कुमार के चेहरे पर किसी धारदार हथियार से बुरी तरह वार किया है. मृतक की दोनों आंखों को भी क्षतिग्रस्त कर दिया गया. ऐसा लगता है कि बाद में अपराधियों द्वारा घर में लटके लूज वायरिंग बिजली के तार से मृतक को बिजली के झटके भी दिए गए हैं. मामले में अभी स्पष्ट रुप से कुछ नहीं कहा जा सकता है, पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने के बाद ही कुछ पता चल पाएगा । 

डॉग स्क्वायड टीम के द्वारा हत्या के उद्भेदन का प्रयास: दिन के 1:00 बजे मामले की जांच करने पहुंची डॉग स्क्वायड टीम के दोनों सदस्य मुकेश कुमार और राजेश कुमार ने घटना के उद्भेदन के संबंध में बताया कि क्योंकि सवेरे से मृतक के शरीर के पास सैकड़ों लोग आए गए ऐसे में सही दिशा में जांच करने में कठिनाइयां आ सकती है, फिर भी घर के उत्तर तरफ खैनी की एक पुड़िया एवं बल्ब को खोलने के लिए प्रयोग किए गए नेनुआ के पत्ते डॉग को सुंधाकर जिन- जिन रास्तों से अपराधी निकले, डॉग स्क्वायड की टीम अपने डॉग के साथ उन रास्तों से होते हुए घर के पिछवाड़े के  मंदिर पर गए फिर वहां से ढलाई रोड को पकड़ कर बगल के एक चापाकल के रास्ते बांसवाड़ी होते हुए मक्के के खेत का सहारा लेते हुए एस एच 91 पर पहुंच गए । डॉग स्क्वायड टीम के अनुसार वहां से अपराधी किसी चार पहिया या दो पहिया वाहन से भाग निकले ।

डॉग स्क्वायड टीम के आने के बाद  आक्रोशित ग्रामीणों ने सड़क जाम को खोल दिया । मुरलीगंज थाना अध्यक्ष ने जानकारी देते हुए बताया कि मामले में जल्द ही उद्भेदन कर लिया जाएगा. मामला कहीं ना कहीं किसी और तार से जुड़ा हुआ है, क्योंकि ग्रामीणों के अनुसार यह स्वच्छ चरित्र का लड़का था. हो ना हो क्योंकि एस एच 91 के किनारे इन दोनों भाइयों की काफी अचल संपत्ति है जो करोड़ों में आंकी जा सकती है, और यही वजह हो सकती है.

मौके पर मृतक के बहनोई लक्ष्मीपुर रहटा निवासी दिलीप कुमार, मृतक का बड़ा भाई राजीव कुमार, मृतक के चचेरे मामा प्रमोद कुमार, जो कोल्हायपट्टी के पूर्व सरपंच हैं, सभी को थाना अध्यक्ष  द्वारा  समझाया जाने के बाद  कि मामले में  जल्द ही  अपराधी को गिरफ्तार कर लिया जाएगा,  परिजन मृतक के शरीर को पोस्टमार्टम कराने के लिए तैयार हो गए.

मौके पर पुलिस बल के साथ रामचंद्र प्रसाद  स नि अ दूधनाथ सिंह पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर मौजूद थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...