08 मार्च 2018

प्रेरणा बनी लक्ष्मी और अफ़साना: मधेपुरा में जीविका से जुड़ी दो स्वछ्ताग्रही महिलायें सम्मानित

मधेपुरा जिले में विभिन्न योजनाओं के तहत बन रहे शौचालयों की सबसे बड़ी समस्या यह है कि अभी भी ग्रामीण क्षेत्र में पुरुष हो या महिला, खुले में शौच ज्यादा पसंद कर रहे हैं । लेकिन इस समस्या के समाधान के लिये लक्ष्मी और अफ़साना ने बेहद प्रसंशनीय कार्य किये हैं ।


सिंहेश्वर प्रखंड के गौरीपुर में लक्ष्मी देवी और कुमार खंड प्रखंड के इसराइन खुर्द पंचायत की अफ़साना खातून इस अभियान में बतौर स्वच्छताग्रही के रुप में सुबह से ही ग्रामीण महिलाओं के बीच जाकर उन्हें खुले में शौच की समस्या बताती है और शौचालय बनाने कॊ प्रेरित करती है । इनकी मेहनत और लगन का परिणाम है कि अब तक  लगभग पाँच सौ ग्रामीणों कॊ शौचालय निर्माण के लिये ये प्रेरित कर चुकी हैं । इन दोनो के अनुसार इस काम में कई बार रूढ़िवादी लोगों ने रोड़े भी अटकाये, लेकिन हमने हिम्मत नहीं हारा ।

इन दोनों प्रेरक ग्रामीण महिलाओं कॊ महिला दिवस के अवसर पर जिलाधिकारी मु सोहैल ने प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया तो कला भवन तालियों की ग़डग़डाहट से गूँज उठा । जिला स्वच्छता समन्वयक विश्वजीत कहते हैं कि हमारे संगठन कॊ ऐसी प्रेरक महिलाओं पर गर्व है जो हमारे प्रशिक्षण से भी आगे बढ़ कर स्वच्छता अभियान कॊ अपना मिशन बना चुकी है । 

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...