18 मार्च 2018

प्रेरक और समन्वयक ने किया महा परीक्षा का बहिष्कार, दिया धरना

विभिन्न मांगों को लेकर जिला प्रेरक समन्वयक संघ के निर्देश पर मधेपुरा जिले के सिंहेश्वर में महा परीक्षा का बहिष्कार किया और प्रेरक और समन्वयक ने प्रखंड लोक शिक्षा कार्यालय में एक दिवसीय  धरना पर पर बैठ गये ।


कोषाध्यक्ष शिवेन्द्र मेहरोत्रा ने 7 साल से गांव समाज के निरक्षरो को साक्षर करने का काम करने वाले प्रेरक और समन्वयको का हाल बदहाल है । संघ के जिला कोषाध्यक्ष मनोज कुमार सिंह ने कहा 18 माह से मानदेय नही मिला है । 70 माह से कार्यालय व्यय की राशि नही मिली है । एमटी और भीटी का प्रशिक्षण नही करवाया गया है । शिशुक्षुओ को पुस्तक एवं लेखन सामग्री भी नहीं उपलब्ध कराया गया है । अनिल कुमार पंडीत ने बताया कि प्रेरको ने सरकार की कई बहुआयामी योजनाओं में अपनी सहभागिता निभाई है । चंपारण सत्याग्रह के सौ वी वर्ष गांठ पर बापू आपके द्वार कार्यक्रम को घर घर पहुँचाया । शराब बंदी में दिवाल लेखन, बाल विवाह और दहेज प्रथा जैसे कुरीतियों के खिलाफ कई लोगों के विरोध के बावजूद हमलोगों का सहयोग रहा । शिक्षको ने जब हड़ताल किया था तो सरकार के निर्देश पर एक माह तक पठन -पाठन सुनिश्चित करने का काम भी हम प्रेरको ने किया । उसी को आज हासिये पर खडा किया जा रहा है ।

मौके पर  माजदा खातुन, रूबी कुमारी, चंदा कुमारी, अर्पणा कुमारी, सोनी कुमारी, सुभाष रजक, मनोज राम, प्रभात कुमार, बिनोद कुमार, विजय कुमार, रंजना कुमारी, चंदेशवरी विश्वास, रेणु देवी, रामा देवी, प्रतिमा देवी, विरेंद्र कुमार, परमेश्वरी ऋषिदेव ने धरना पर मौजूद थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...