16 फ़रवरी 2018

Special Live: युभीके कॉलेज में छात्रों ने प्रधानमंत्री से सीखा परीक्षा में तनाव मुक्ति के गुर

मधेपुरा जिले के आलमनगर के युभीके कॉलेज कड़ामा आलमनगर में छात्रों ने विशेष लाइव प्रसारण के तहत प्रधानमंत्री मोदी से परीक्षा की अवधि में तनाव मुक्ति का गुर सीखा ।


विश्वविद्यालय अनुदान आयोग नई दिल्ली द्वारा आयोजित परीक्षा की अवधि में तनाव मुक्ति हेतु प्रधानमंत्री द्वारा देश के छात्रों को तनाव मुक्ति सहित कैरिअर के बारे में टिप्स दिया गया । इस दौरान युभीके महाविद्यालय के द्वारा विशेष व्यवस्था की गई थी. उपस्थित हजारों छात्र-छात्राओं ने प्रधानमंत्री के टिप्स को सुनकर लाभ उठाया । 

इस कार्यक्रम का उद्घाटन विश्वविद्यालय शासी निकाय के प्रतिनिधि ललन प्रसाद अद्री एवं महाविद्यालय के प्राचार्य डा0 माधवेन्द्र झा द्वारा संयुक्त रूप से प्रोजेक्टर एवं एलईडी पर से पर्दा खींचकर किया. इस दौरान मुख्य अतिथि ललन प्रसाद अद्री ने संबोधित करते हुए कहा कि इस सुदुर क्षेत्र में यह महाविद्यालय शिक्षा में अपनी महती भूमिका निभा रही है. महाविद्यालय पूरे विश्ववविद्यालय में अपनी गौरवमयी पहचान बना चुकी है । वहीं कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे महाविद्यालय के प्राचार्य डा0 माधवेन्द्र झा ने कहा कि महाविद्यालय के लिए यह बहुत बड़ा क्षण है क्योंकि पूरे विश्वविद्यालय में सिर्फ यु भी के काॅलेज कड़ामा आलमनगर को ही प्रधानमंत्री मोदी के कार्यक्रम आयोजन के लिए चुना गया है । इसके लिए महाविद्यालय परिवार कुलपति का सदा आभारी रहेगा । उन्होने कहा कि परीक्षा की तैयारी करने के वक्त छात्र-छात्राओं में भय का माहौल  बना रहता है । परन्तु छात्र-छात्राओं को अपने आप पर भरोसा रखनी चाहिए लगन एवं मेहनत से मंजिल को प्राप्त करें । उन्होने कहा कि प्रधानमंत्री द्वारा देश के 35 हजार काॅलेज सहित 6 लाख विद्यालय में सीधा प्रसारण कर छात्र-छात्राओं को संबोधित करेंगे जिससे लगभग दस करोड़ छात्र-छात्रा एवं अभिभावक लाभान्वित हो सकेंगे । 

प्रधानमंत्री मोदी के द्वारा परीक्षा अवधि में तनाव मुक्ति कार्यक्रम के दौरान देश के विभिन्न क्षेत्रों से छात्र-छात्राओं ने सवाल पूछा जिसका जवाब प्रधानमंत्री ने उदाहरण के साथ बखुबी दिया । साथ ही उन्होंने कैरिअर बनाने के लिए भी टिप्स दिए. पीएम मोदी ने छात्र-छात्राओं को संबोधित करते हुए कहा कि दूसरे से प्रतिसर्पधा नहीं बल्कि खुद से प्रतिस्पर्धा करनी चाहिए । उन्होने कहा एकाग्रता सबके पास रहती है बस जरूरत है उसे अमल में लाने की. उन्होने अभिभावक से अपील की कि अपने बच्चों पर अपना सपना न थोपें । खुद छात्रों को अपना कैरिअर जिस क्षेत्र में हो बनाना चाहे उसे बनाने देना चाहिए । 

इस दौरान युभीके कॉलेज कड़ामा में शिक्षक प्रतिनिधि प्रो0 शिवकुमार यादव, डा0 अरूण कुमार, डा0 ललन झा, डा0 प्राणमोहन सिंह, प्रो0 शिवकिशोर झा,0 सिप्पु झा, डा0 सुनीता झा, निरंजन झा, श्यामल किशोर, चन्द्रशेखर झा, दिलीप सिंह, प्रेमनाथ आचार्य, अमरेन्द्र झा, नरेन्द्र स्वामी, रविन्द्र नाथ आचार्य, नंदन मिश्र, नारायण मिश्र सहित कई गणमान्य एवं हजारों छात्र-छात्रा अभिभावक उपस्थित थे । 
(रिपोर्ट: प्रेरणा किरण)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...