18 फ़रवरी 2018

सिंहेश्वर महोत्सव की शान बनी बिहार की मैथिली ठाकुर के गीतों ने किया मंत्रमुग्ध

मैथिली ठाकुर आज किसी परिचय की मुहताज नहीं है. इंडिया फेम म्यूजिक कॉन्टेस्ट द राइजिंग स्टार में फर्स्ट रनर अप मैथिली बिहार के मधुबनी जिले की है और मैथिली अपने सुर के दम पर आज लाखों संगीत प्रेमियों के दिल पर राज करती है. 


मैथिली इस बार सिंहेश्वर महोत्सव की शान बनी है.

बीती शाम सिंहेश्वर महोत्सव में आयोजकों की जम कर प्रशंसा तब हुई जब लोगों ने बेहद सुरीली और सधी आवाज में मैथिली ठाकुर का गायन सुना. भव्य कार्यक्रम में जब मैथिली ने सुरों का शमां बांधा तो लोग मंत्रमुग्ध हो गए. ‘मैं तो पिया से नैना लगाईं रे’, ‘दमादम मस्त कलंदर’, ‘छाप तिलक सब’, ‘जब नजर से मिलाई मजा आ गया’ समेत आधे दर्जन से अधिक गीतों के माध्यम से मैथिली ठाकुर न सिर्फ सिंहेश्वर महोत्सव में मौजूद श्रोताओं के दिल में उतर गई बल्कि यह भी दर्शा दिया कि इस प्रतिभा उम्र या जगह की मुहताज नहीं होती.

बता दें कि मैथिली ठाकुर बिहार के मधुबनी जिले के बेनीपुर प्रखंड के उड़ेन, बनकट्टा निवासी बच्चा ठाकुर की पुत्री तथा रमेश ठाकुर की पुत्री है. मैथिली इन्डियन आइडल जूनियर समेत कई राष्ट्रीय स्तर की संगीत प्रतियोगिता ने टॉप 20 में अपनी जगह बना चुकी है और तब पूरे देश ने इस दशवीं में पढ़ रही छात्रा पर गर्व किया था जब कलर्स टीवी के अति प्रतिष्ठित म्यूजिक कॉम्पिटिशन राइजिंग स्टार में मैथिली प्रथम रनर अप रही.

सिंहेश्वर महोत्सव में बिहार की शान मैथिली ठाकुर के गाए कुछ गीत इस वीडियो में सुनें, यहाँ क्लिक करें.
(Report: R.K. Singh)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...