16 फ़रवरी 2018

अपहरण के पीछे दारू का धंधा: अपहृत बरामद, दो अपहरणकर्ता गिरफ्तार

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज पुलिस ने अपहरण के 24 घंटे के अन्दर अपहृत को रामद करते हुए दो अपहरणकर्ता को गिरफ्तार किया है, अपहृत पिंटू का अपहरण शराब तस्कर से लेनदेन मे हुए धोखे की वजह से हुआ था

मधेपुरा सदर थाना मे शुक्रवार को एएसपी राजेश कुमार ने पत्रकार सम्मेलन मे घटना की जानकारी देते हुए कहा कि अपहृत पिंटू का भाई मुरलीगंज निवासी गुड्डू पोद्दार शराब का बड़ा  सप्लायर था जो पूर्व मे गिरफ्तार होकर जेल गया था. गुड्डू शराब के लेन-देन  पूर्णिया के महबूब खान टोला के सुजीत कुमार मंडल, मो० शममी उर्फ भूटो और किशनगंज के मोस्ट वांटेड प्रकाश पाल से लम्बे समय से शराब लेता था. इसी लेन देन में गुड्डू शराब माफिया के पांच लाख रूपये डकार गया, लेकिन तीनों शराब माफिया अक्सर रूपये की मांग करते रहे लेकिन गुड्डू टालता रहा.
आखिरकार 14 फरवरी को तीनों शराब माफिया मुरलीगंज गुड्डू के घर पहुंचे तो गुड्डू घर से खिसक गया तो माफिया उनके भाई को निशाना बनाते उसे सत्तू पिलाने के कहा. जब पिंटू उन्हें  सत्तू पिलाने गौशाला चौक ले गया वहां शराब माफिया उसे कार जबरन बैठा कर फरार हो गए इसके बाद शराब माफिया ने मोबाइल से गुड्डू को कहा कि उसका भाई मेरे कब्जे में है. रूपये लेकर आओ नही तो भाई का काम तमाम कर देंगे। पहले तो गुड्डू ने मामले को पुलिस से छुपाया लेकिन भाई की जान जाने के भय से आखिरकार रात 9 बजे पुलिस को मामले की जानकारी दी.
 
मामला अपहरण का होने के कारण मुरलीगंज थानाध्यक्ष बी० डी० पंडित ने तत्काल सूचना एसपी विकास कुमार को दी. एसपी विकास कुमार ने तत्काल एएसपी राजेश कुमार के नेतृत्व मे एक टीम का गठन किया. टीम में थानाध्यक्ष मुरलीगंज, सब इंस्पेक्टर राम चन्द्र प्रसाद ,डीआईयू और पुलिस बल को शामिल किया ।
टीम ने पहले अपराधी की गिरफ्तारी के पूर्णियां पुलिस से सम्पर्क कर छापामारी की तो अपहरणकर्ता सुजीत और शम्मी को गिरफ्तार किया गया, लेकिन अपहृत हाथ नहीं लगा. गहन पूछताछ में पता चला कि अपहृत पिंटू को प्रकाश लेकर किशनगंज ले गया है ।
टीम किशनगंज पहुंच कर स्थानीय पुलिस से सहयोग लेकर  प्रकाश के कई ठिकाने पर छापामारी
की लेकिन न तो प्रकाश और न ही अपहृत मिला । इसी बीच पुलिस की आने  जानकारी प्रकाश को मिल गयी । पुलिस ने प्रकाश के लोकेशन पर पीछा शुरू किया तो पुलिस की दबिश से अपहृत को बंगाल-बिहार की सीमा पर गाड़ी से उतार कर फरार हो गया ।

अपहृत पिंटू ने बताया कि ले जाने के दौरान  उसके साथ मारपीट की गई उसने ताया कि वह पूरी गाड़ी पर घुमाते रहे और खाने को फल दिया था. अन्त में सड़क पर छोड़कर भाग गया, तो पुलिस आ गयी और पुलिस साथ लेकर आयी है

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...