27 मार्च 2018

मधेपुरा में आधुनिक सुविधाओं से लैश ‘यूरो किड्स प्री स्कूल’ का हुआ उद्घाटन

यह माना जाता है कि बच्चों के समुचित विकास में ही उसके सुन्दर भविष्य की नींव होती है और शायद इसलिए ही जागरूक अभिभावक जन्म के बाद से ही बच्चों के शारीरिक विकास के साथ ही उसके बौद्धिक विकास के प्रति चिंतित हो जाते है. 


शहरों में प्री या प्ले स्कूलों की अवधारण के पीछे भी कुछ ऐसी ही सोच होती है.

रामनवमी के दिन मधेपुरा के वार्ड नं. 18, विद्यापुरी में रासबिहारी हाई स्कूल से सटे एक प्ले स्कूल ‘यूरो किड्स प्री स्कूल’ का उद्घाटन प्रोफेसर बी. पी. मंडल (पूर्व रजिस्ट्रार बी. एन. मंडल विश्वविद्यालय) के द्वारा किया गया । श्री मंडल ने आगंतुकों को संबोधित करते हुए कहा कि स्कूल खोल लेना बहुत आसान है लेकिन उसको सही उद्देश्य से चला पाना बहुत मुश्किल है। उन्होंने कहा कि जिस भी स्कूल का संचालन महिला करती है, मैने उसको सफल होते देखा है। उन्होंने स्कूल की संचालिका सुपर्णा कुमारी को सफल संचालन करने का शुभकामनाएँ और आशीर्वाद दिया।
मौके पर आधुनिक सुविधाओं से लैश स्कूल यूरो किड्स के प्रतिनिधि शेखर जैन ने कहा कि बच्चों के नैसर्गिक विकास के उद्देश्य को देखते हुए ही इस प्री स्कूल की स्थापना सन 2001 में मुंबई में हुई थी और आज 3 देशों में और 350 शहरों में 900 से ज्यादा इसके सेंटर हैं । कहा कि यूरो किड्स इंडिया का सबसे बेस्ट प्री स्कूल है. हमारा करिकुलम हार्वड यूनिवर्सिटी के रिसर्च से लिया हुआ है। 

स्कूल की संचालिका सुपर्णा कुमारी ने बताया कि इस स्कूल में सुरक्षा और सफाई ही बड़ी जगह भी बच्चों के लिए उपलब्ध है ताकि उनका हर दृष्टिकोण से चतुर्दिक विकास हो सके.

इस अवसर पर बी. एन. एम. भी कॉलेज साहुगढ़ मधेपुरा के प्रिंसिपल डॉ किशोर कुमार, प्रोफेसर डॉ अमोल रॉय, डॉ धीरेन्द्र यादव, विनय झा, निखिल मंडल, डॉ विमल सागर, प्रो बलवीर कुमार, पंकज यादव इत्यादि उपस्थित थे।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...