13 मई 2017

वार्ड नं. 2: एक-दूसरे पर तीखे आरोपों के बीच कांटे की टक्कर, संवेदनशील है वार्ड

मधेपुरा का वार्ड नं. 02. अपने आप में अत्यंत महत्वपूर्ण इस मामले में कि यहाँ सबसे कम सिर्फ दो उम्मीदवार ही मैदान में हैं. मधेपुरा टाइम्स ने जब वार्ड का दौरा किया तो कारण भी कुछ-कुछ समझ में आने लगा.

दरअसल वार्ड इस बार महिला के लिए आरक्षित हो गया और दोनों प्रत्याशी न सिर्फ काफी मजबूत हैं बल्कि एक प्रत्याशी विनीता भारती जहाँ निवर्तमान वार्ड पार्षद हैं वहीँ दूसरी प्रत्याशी विशनी देवी के पुत्र धीरेन्द्र
कुमार वर्ष 2007-12 में इस वार्ड का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं और वर्ष 2012 में हुए दूसरे चुनाव में निकटतम प्रतिद्वंदी भी थे. वर्ष 2012 के नगर परिषद् चुनाव की बात करें तो कुमारी विनीता भारती को 670 मत प्राप्त हुए थे और धीरेन्द्र कुमार को 451.

इस बार जहाँ दोनों प्रत्याशी कुमारी विनीता भारती और विशनी देवी के साथ मतदाताओं का हुजूम हमेश दीखता है वहीँ दोनों ही प्रत्याशी एक दूसरे पर कई गंभीर आरोप भी लगते हैं. यही नहीं, दोनों के समर्थक भी कट्टर जैसे दीखते हैं और वे भी आरोप-प्रत्यारोप से नहीं चूकते हैं. निवर्तमान पार्षद जहाँ पिछले पांच सालों में वार्ड का जमकर विकास करने का दावा करते हैं वहीँ विरोधी कहते हैं कि उनके द्वारा बढाए काम को ही सिर्फ पूरा किया गया है. हाउसिंग योजना का लाभ सिर्फ अपनों को दिया गया है. प्रत्याशी एक दूसरे पर चुनाव में बाहर के अपराधियों तक का सहारा लेने की बात करते हैं. 

पूरे वार्ड का माहौल अभी ही तनावपूर्ण प्रतीत होता है. हालाँकि दोनों प्रत्याशियों से दूर वार्ड में मौजूद अन्य लोगों से बात करने पर कोई खुलता हुआ नजर नहीं आता. लोग कहते हैं कि काम करने वाले को ही वोट देंगें, देखिए, टक्कर तो कड़ी है, रिजल्ट क्या आता है?
सुनिए वीडियो में क्या कहते हैं दोनों पक्ष, यहाँ क्लिक करें.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...