15 अप्रैल 2018

मधेपुरा में आंगनबाड़ी सेविका बहाली में चल रहा है अवैध वसूली का खेल !

मधेपुरा जिले के मुरलीगंज प्रखंड में आंगनबाड़ी सेविकाओं की बहाली को लेकर जमकर लूट मची है. 


आरोप है कि आंगनबाड़ी सीडीपीओ और एलएस की मिलीभगत से सेविका बहाली के नाम पर स्थानीय सेविकाओं के माध्यम और बिचौलिये के द्वारा अभ्यर्थियों से मोटी रकम की उगाही की जा रही है. 

पैनल चार्ट में सही अभ्यर्थियों को दरकिनार कर रुपये के बदौलत अभ्यर्थियों को परेशान किया जा रहा है. 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार मुरलीगंज प्रखंड के कई पंचायतों में आंगनबाड़ी बहाली को लेकर अवैध वसूली का बड़ा खेल किया जा रहा है. बिचौलियों के माध्यम से अभ्यर्थियों से मोटी रकम की उगाही की जा रही है । जानकारी के मुताबिक मुरलीगंज प्रखंड के जीतापुर और भतखोड़ा पंचायत के वार्ड संख्याँ -09 स्थित सेविका बहाली को लेकर कई बिचौलिये द्वारा सेविका की बहाली के नाम पर हो अभ्यर्थियों से ली जा रही है मोटी रकम ,इस बाबत मुरलीगंज प्रखंड के उप प्रमुख श्रीमती रेणु देवी व प्रमुख मनोज साह ने बताया कि मुरलीगंज प्रखंड का है बुरा हाल है. आंगनबाड़ी सीडीपीओ सुनीता कुमारी और विभिन्न क्षेत्रों के एलएस मनमानी कर रहे हैं. इतना हीं नहीं, सरकारी नियमों को ताख पर रखकर अवैध बहाली के लिए बिचौलियों के माध्यम से मोटी रकम की उगाही भी किया जा रहा है । इस सेविकाओं की बहाली में स्थानीय प्रमुख और जनप्रतिनिधियों को भी किया जा रहा है दरकिनार। 

हालांकि इस मामले को लेकर मुरलीगंज सीडीपीओ सुनीता कुमारी के चलभाष संख्या-9431005465 पर जब हकीकत जानने की प्रयास किया गया तो कई बार घंटी बजती रही लेकिन सीडीपीओ सुनीता कुमारी ने अपना चलभाष नहीं उठाया. 

वहीँ इस मामले को लेकर डीएम, मो० सोहैल से पूछे जाने पर उन्होंने मधेपुरा टाइम्स से बताया कि अगर इस तरह की कोई बात है तो जांच कर इन लोगों पर की जाएगी विधिवत आवश्यक कार्रवाई और जांच प्रक्रिया में सत्यता पाए जाने पर तत्काल प्रभाव से निलम्बन की प्रक्रिया जारी होगी ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...