30 मार्च 2018

मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहा मधेपुरा स्टेशन: युवाओं ने सौंपा रेलवे अधिकारी को ज्ञापन

विभिन्न विकास को लेकर भले ही मधेपुरा लगातार सुर्ख़ियों में रहा हो, परन्तु यहाँ का रेलवे स्टेशन अभी भी मूलभूत सुविधाओं के लिए तरस रहा है. 

दौरम मधेपुरा रेलवे स्टेशन परिसर में यात्रियों को होने वाली विभिन्न समस्याओं को लेकर आज मधेपुरा के जागरूक युवाओं की टीम ने महानिरीक्षक सह मुख्य सुरक्षा आयुक्त पूर्व मध्य रेलवे एवं मंडल रेल प्रबंधक पूर्व मध्य रेलवे से मिलकर एक ज्ञापन सौंपा.

ज्ञापन के माध्यम से मधेपुरावासियों की तरफ से कई महत्वपूर्ण मुद्दे उठाये गए जो यात्रियों की मूलभूत सुविधाओं से सम्बंधित थे. कहा गया कि रेलवे स्टेशन पर प्लेटफॉर्म के नीचे होने से बुजुर्गों, बीमार व्यक्तियों और महिलाओं को ट्रेन पर चढ़ने और उतरने में काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है और इस वजह से हमेशा दुर्घटना की आशंका बनी रहती है. स्टेशन परिसर में शीतल शुद्ध पेय जल प्लांट नहीं होने से यात्रियों को प्यासा रहना पड़ता है या फिर महंगे जल खरीद कर पीने की लाचारी हो जाती है. कहा कि स्टेशन से पूर्व फाटक संख्यां 90 B तथा पश्चिम में 91 B के ऊपर सड़क पुल नहीं रहने के कारण प्रतिदिन जाम की समस्या उत्पन्न हो हाती है जिससे आम लोगों को परेशानी झेलना पड़ता है. स्टेशन परिसर में आरक्षण काउंटर रविवार को बंद रहने से आमलोग तथा नौकरीपेशा लोगों को परेशानी होती है. स्टेशन परिसर में पूर्व से प्रथम श्रेणी प्रतीक्षालय अब बंद रहता है, जिससे यात्रियों को परेशानी होती है. इसके अलावे बड़ी रेल लाइन होने के बावजूद रेलवे प्लेटफॉर्म की लम्बाई पर्याप्त नहीं है. यही नहीं, मांग यह उठाई गई कि जनहित एवं राज्यरानी एक्सप्रेस का परिचालन भी मधेपुरा से हो ताकि पूरे इलाके के लोगों को सुविधा मिल सके. कहा कि समस्तीपुर-सहरसा सवारी गाड़ी का विस्तार कटिहार जंक्शन से नहीं होने से पूरे इलाके के यात्रियों को कोई लाभ नहीं मिलता है.  
इन सब मांगों के साथ प्रभात रंजन, सुमन सौरव, सन्नी यादव, राजेश यादव, निशांत यादव, प्रभात कुमार मिस्टर, प्रेम यादव, निरंजन जी उर्फ़ बाबु साहेब, राजू गोप, अतुल प्रकाश, रूपेश यादव, हसन रजा, गौरव यादव, अंकेश राणा, गोपाल जी आदि समेत एक प्रतिनिधिमंडल ने महानिरीक्षक सह मुख्य सुरक्षा आयुक्त पूर्व मध्य रेलवे एवं मंडल रेल प्रबंधक पूर्व मध्य रेलवे से मिलकर एक अत्यंत महत्वपूर्ण मांग यह भी उठाई कि रेलवे स्टेशन परिसर में आये दिन महिला यात्रियों के साथ अप्रिय घटनाएँ घट रही हैं, जिसके लिए यहाँ पर्याप्त सुरक्षा व्यवस्था और महिला पुलिस की भी प्रतिनियुक्ति अविलम्ब की जाय. अधिकारी ने युवाओं की माँग पर सकारात्मक कार्यवाही का भरोसा दिया है.
(नि. सं.)

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...