19 फ़रवरी 2018

मधेपुरा सदर अस्पताल से कैदी फरार, पर दो घंटे में फिर हुआ गिरफ्तार

मधेपुरा के मंडल कारा का एक विचाराधीन कैदी इलाज के दौरान आज सदर अस्पताल से पुलिस गार्ड को चकमा देकर फरार हो गया. पर पुलिस की सक्रियता से महज दो घंटे में फरार कैदी को सिंहेश्वर मे दबोच लिया गया

मिली जानकारी के अनुसार मंडल कारा, मधेपुरा में सिहेश्वर थाना कांड संख्या 296/17 का आरोपी सतोखर गांव के विवेक यादव का पुत्र विचाराधीन बंदी रिंकू कुमार आज सदर अस्पताल में ही फरार हो गया. बताया गया कि बंदी रिंकू कुमार गूंगा है और एक चोरी के मामले में सिंहेश्वर पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर जेल भेजा था । 17 फरवरी को रिंकू के बीमार होने पर जेल से लाज के लिये सदर अस्पताल भेजा गया. डॉक्टर ने लाज के उसे भर्ती किया गया था और साथ ही कैदी वार्ड में रख कर लाज किया रहा था । सोमवार को सुबह कैदी का अल्ट्रासाउंड किया गया, जिसमें उसे  हेपेटाइटिस बी होने की पुष्टि हुई थी. रिंकू को इलाज के पटना रेफर करने से सम्बंधित एक मेडिकल बोर्ड का गठ़न किया गया था. कैदी की सुरक्षा के लिए जेल प्रशासन ने एक कक्षपाल विनय कुमार और एक होम गार्ड को रखा था लेकिन दिन के 12 बजे के आसपास कैदी हाथ मे हथकड़ी लेकर गार्ड को चकमा देकर फरार हो गया । ऐसी भी सूचना मिल रही कि घटना के वक्त सुरक्षा मे लगे कक्षपाल मौके पर नहीं थे ।

घटना की सूचना मिलते ही जेल प्रशासन मे अफरातफरी मच गई । जेल अधीक्षक अमित कुमार ने तत्काल घटना की सूचना डीएम मो० सोहैल और एसपी विकास कुमार को दी. घटना की जानकारी मिलते ही एसपी ने फरार कैदी  की गिरफ्तारी के लिए कमांडो समेत सभी थाना को एलर्ट कर दिया. दूसरी ओर जेल अधीक्षक ने जेल की सुरक्षा में तैनात सभी पुलिस के जवान को फरार कैदी को खोजने के लिए सदर अस्पताल, बस स्टैंड भेज दिया और कैदी के घर की नाकेबंदी कर दी. आखिरकार जेल पुलिस ने फरार कैदी को सिहेंश्वर में दो घंटे में फिर से दबोच लिया ।

जेल अधीक्षक श्री कुमार ने ताया कि फरार विचाराधीन बंदी को सिहेंश्वर से गिरफ्तार किया गया है. कैदी की सुरक्षा में लगे सुरक्षा कर्मी की लापरवाही की जांच की जा रही है, उनके विरुद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...