05 फ़रवरी 2018

महाशिवरात्रि मेला इस बार होगा और भी बेहतर: सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति की बैठक

रविवार कॊ डी आर डी ए सभागार में सिंहेश्वर मंदिर न्यास समिति की बैठक में अनेक महत्वपूर्ण निर्णय लिये गये । 


न्यास समिति के  अध्यक्ष सेवा निवृत जिला जज समीर कुमार झा की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में इस बार मेला कॊ और भी बेहतर ढंग से लगाने का निर्णय लिया गया ।

बैठक में मेला के अवसर पर मंदिर की सफाई व्यवस्था और रंग रोगन का काम शीघ्रता से कराने का निर्णय लेकर व्यवस्थापक कॊ निर्देश दिये गये ।
सदस्यों ने मंदिर परिसर में मेला के दौरान प्रकाश की  कारगर वैकल्पिक व्यवस्था कराने का निर्णय लिया ताकि बिजली जाने के बावजूद प्रकाश की कमी नही हो ।मंदिर में सजावटी रोशनी के साथ चप्पे चप्पे पर बल्ब लगाने का निर्णय लिया गया ।मेला के बाद सदस्य मनीष शर्राफ के सुझाव पर सोलर लाइट और इन्वर्टर की पर्याप्त व्यवस्था का भी निर्णय लिया गया ।

बैठक में निर्णय लिया गया कि  इस बार भी मेला का डाक में न्यास समिति भाग लेगी और इसके लिये व्यवस्थापक कॊ अधिकृत किया गया ।डाक में बोली लगाने का नियम पर भी विमर्श के बाद निर्णय हुआ कि गत वर्ष से मात्र पंद्रह प्रतिशत अधिक तक ही बोली लगाई जाय ।गत वर्ष लगभग ग्यारह लाख रू में मेले की बंदोबस्ती न्यास समिति ने ही हासिल की थी ।

बैठक में यह भी निर्णय हुआ कि मेले के दौरान लगने वाली दूकानों से पूर्व की दर 230रू प्रति रनिँग फीट किराये में वृध्दि करते हुए अब 250रू प्रति रनिँग फीट की दर से वसूली की जायेगी ।किराये में वृध्दि महँगाई की वजह से आवश्यक माना गया ।

बैठक में जब न्यास समिति के खर्चों का ऑडिट कराने की बात उठी तो बताया गया कि सेवा निवृत लेखापाल द्वारा अब तक तीन लाख रू से अधिक का कोई हिसाब नही दिया गया है । इसके लिये उन्हें बार बार लिखित तौर पर भी सूचित किया गया है । विमर्श के बाद सदस्यों ने सर्वसम्मति से निर्णय लिया कि पूर्व लेखापाल शिव नारायण महतो पर थाने में गबन के आरोप में प्राथमिकी दर्ज करवाई जाय

बैठक में सदस्यों ने कई अन्य सवाल भी उठाये । सदस्य सत्यजीत यादव द्वारा न्यास समिति द्वारा निर्मित सड़क प्राक्क्लन के मुताबिक नही बनाये जाने के सवाल पर निर्णय हुआ कि इसकी जाँच न्यास समिति के सचिव सह डीडीसी द्वारा कार्यपालक अभियंता से कराकर ही विपत्र का भुगतान किया जायेगा । इसी प्रकार मवेशी हाट की बंदोबस्ती पर निर्णय लिया गया कि अब वर्तमान बंदोबस्ती ही जारी रखी जायेगी और नये सिरे से अगले वित्तीय वर्ष में डाक होगी । न्यास समिति के कर्मचारियों की वेतन वृध्दि मामले में सदस्य उपेंद्र रजक कॊ अधिकृत किया गया कि वे पहले वेतन आदि का विवरण संकलित कर वेतन वृध्दि का युक्तिसंगत प्रस्ताव तैयार कर समिति के समक्ष प्रस्तुत करेंगे और इसके बाद विमर्श कर निर्णय लिया जायेगा । बैठक में अध्यक्ष व सचिव सहित कुल नौ सदस्य उपस्थित थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...