01 फ़रवरी 2018

ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों कॊ पारदर्शिता बरतने की सलाह

जिलाधिकारी से मिले निर्देश के बाद मधेपुरा में अब बैंकों ने अपने अपने ग्राहक सेवा केन्द्रों पर नज़र रखना शुरू कर दिया है । उन्हें नसीहत देकर पारदर्शिता बरतने की सलाह दी जा रही है ।

गुरुवार कॊ जिला मुख्यालय के कला भवन में स्टेट बैंक के  ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों की बैठक कर उन्हें पारदर्शितापूर्ण कार्य करने और सही लाभूको तक सरकारी योजनाओं का लाभ पहुँचाने की नसीहत दी गयी ।

स्टेट बैंक के क्षेत्रीय प्रबंधक चेतन कश्यप की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में जिले कॊ डिजिटल इंडिया एवम वित्तीय साक्षरता कॊ ग्राहकों तक पहुँचाने में ग्राहक सेवा केन्द्र संचालकों की महत्ता कॊ स्वीकार करते हुए बताया कि आपकी जवाबदेही भी बनती है कि बेंक की विश्वसनीयता बनी रहे ।

बैठक के संयोजक अग्रणी जिला प्रबंधक रंजन कुमार झा ने बैंक की विभिन योजनाओं और उत्पादों की जानकारी देते हुए इससे  ग्रामीण ग्राहकों कॊ लाभान्वित करने की सलाह दी । मुख्य प्रबंधक बटेश नाथ झा ने स्पष्ट तौर पर निदेशित किया कि  ग्राहकों के साथ अनियमितता करने पर दंड का भागी बनने से कोई नही रोक सकता ।इसलिये किसी भी कठोर दंड से बचने के लिये शुचितापूर्ण कार्य ही करें ।

 ज्ञातव्य है कि जिलाधिकारी मु सोहैल ने शिकायत मिलने पर जाँच करवाया तो तीन संचालकों पर  अनियमितता बरतने और गरीब ग्राहकों की बेंक में जमा राशि कॊ धोखा देकर निकाल लेने के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की गयी है ।जिलाधिकारी ने इसके बाद सभी संचालकों की बैठक कर उन्हें न सिर्फ चेतावनी दी बल्कि बैंक कॊ भी तकनीकी तौर पर सुधार का निर्देश दिया था ।

 इस अवसर पर जवाहर प्रसाद सिंह ने संचालकों कॊ वित्तीय साक्षरता पर प्रकाश डाला ।बी एन खान ,कामेश्वर चौधरी एवम बी एन रजक ने ग्राहकों कॊ तत्परता पूर्वक त्रुटि रहित सेवा प्रदान करने हेतु संकल्पित किया। बैठक में संचालकों ने भी अपनी अपनी समस्या रखी जिसे शीघ्र निराकरण करने का आश्वासन दिया गया । इस अवसर पर संतोष कुमार झा सहित अन्य बेंक पदाधिकारी उपस्थित थे ।

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...